अगर आप नाई से मसाज कराते हो तो आपकी जिंदगी खतरे में है

अगर आप नाई से मसाज कराते हो तो आपकी जिंदगी खतरे में है

By: Madhu Sagar
September 11, 14:09
0
NEW DELHI: शेविंग और कटिंग के लिए नाई की दुकान पर तो जाते ही होगे।कटिंग और शेविंग के बाद नाई एक बात और बोलता है कि साहब मसाज कर दें क्या।बहुत से लोग कराते भी हैं लेकिन ये खतरे से खाली नहीं है

  नाई से गर्दन और सिर की मसाज करवाना आपकी जिंदगी को खतरे में डाल सकता है। 40 साल के व्यापारी बाबू रेड्डी इसका उदाहरण हैं। उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि गर्दन चटकवाने की कीमत 24 घंटे इमरजेंसी में भर्ती होकर चुकानी पड़ेगी। बाबू स्थानीय सैलून में गर्दन की मसाज कराने गए थे। उन्होंने सोचा था कि आराम महसूस होगा लेकिन उन्हें वर्टेब्रा-बॉयलर स्ट्रोक पड़ गया।

 

इस वाकये के बारे में बाबू रेड्डी बताते हैं कि गर्दन से चट्ट की आवाज आई, उन्हें लगा कि मसाज सफल हो गई है। लेकिन घर आते ही वह असहज महसूस करने लगे और थोड़ी देर बार सीधे चल भी नहीं पाए। उन्हें अस्पताल के आपातकालीन वार्ड में भर्ती कराना पड़ा। उनकी सांसें अनियमित थीं और ब्लड प्रेशर बढ़ गया था। डॉक्टरों को बाबू रेड्डी को वेंटिलेटर पर रखना पड़ा।

बाबू का इलाज करने वाले डॉ महेश संभशिवम का कहना है कि एमआरआई करवाने पर पता चला कि उनकी धमनी में खून की सप्लाई रुक गई है और उनको वर्टेब्रा-बॉयलर स्ट्रोक पड़ गया है। जांच में पता चला कि बाबू रेड्डी नियमित तौर पर नाई से गर्दन और सिर की मसाज करवाने के आदी हैं।

 उनकी मसाज गर्दन के चटकने के साथ ही खत्म होती है। डॉक्टर महेश संभशिवम का कहना है कि अगर वक्त पर उनका इलाज नहीं किया जाता तो उनकी स्थिति और बिगड़ सकती थी। बाबू रेड्डी को गर्दन चटकवाने पर स्ट्रोक पड़ गया था। दरअसल जिस नाई ने बाबू रेड्डी की मसाज की थी वह अच्छी तरह से ट्रेंड नहीं था। यह एक न्यूरोलॉजिकल संबंधी समस्या है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।