केला चूसने वाले संभल जाएं-  ये आपको AIDS का मरीज बना देगा.. फैसला आपके हाथ में है

केला चूसने वाले संभल जाएं- ये आपको AIDS का मरीज बना देगा.. फैसला आपके हाथ में है

By: Ruby Sarta
January 05, 22:01
0
NEW DELHI: ये तो सभी जानते हैं कि एचआईवी या एड्स संक्रमित मरीज के साथ असुरक्षित तरीके से सेक्स करने, मल्टीप्ल पार्टनर कर साथ सेक्स करने या सुई जैसे चीजें शेयर करने से एचआईवी हो सकता है। 

तो आइए आजहम आपको बताते हैं कि एड्स किस वजह से होता है। आपको इस बात पर ध्यान देना होगा और खुद को सुरक्षित रखना होगा। क्योंकि ये बीमारी एक बार हो गई तो मौत निश्चित है, इसका कोई इलाज नहीं।

आपके शरीर में कट लग जाए तो खून के जरिए इन्फेक्शन हो सकता है

काटना- अगर एचआईवी का मरीज किसी हेल्दी इंसान को काट लिया तो उसके सैलाइवा और खून के जरिये ये इंफेक्शन फैल जाता है। अगर आप मरीज की जूठी चीज खा रहे हैं और आपको गले में अंदर से इंन्फेक्शन हुआ हो या फिर कट लगा हो तो खून निकलने के वजह से आपको ये बीमारी हो सकती है।

19 साल की लड़की ने बेचा अपना कुंवारापन.. ऐसे शख्स ने खरीदा जिससे उम्मीद ही नहीं थी

ऐसी भी फैली थी खबर

कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर ये भी खबरें आए थी की केले में HIV ग्रसित खूल मिलाया जा रहा है ताकि ये बीमारी ज्यादा से ज्यादा लोगों में फैल जाए। क्योंकि केला ही एक एसा फल है जिसे इंसान अंदर तक काट कर नहीं देखता और बिना देखे ही खा लेता है। हालांकी इस खबर को झूठ और अफवाह भी बताया गया था ।

ब्रेस्टफिडिंग- यदि प्रेगनेंसी के दौरान एचआईवी हो गया तो गर्भस्थ शिशु को होने का खतरा होता है लेकिन क्या आपको पता है कि ब्रेस्टफिडिंग के दौरान भी शिशु को ये बीमारी होने का खतरा होता है।

किस करने से भी हो सकता है एड्स

किस करना- ये माना जाता है कि किस करने से एचआईवी इंफेक्शन नहीं होता है लेकिन पार्टनर को अगर माउथ अल्सर हुआ है तो डीप किस करने से ये बीमारी होने का खतरा होता है।

ओरल सेक्स- ये तो सभी जानते है कि सेक्स करने से एचआईवी इंफेक्शन हो सकता है लेकिन ओरल सेक्स भी ये बीमारी होने की पूरी संभावना होती है।

ओरल सेक्स है बड़ा कारण

ऑर्गन ट्रांसप्लैंन्टेशन- अगर एचआईवी इंफेक्शन वाले इंसान का ऑर्गन किसी हेल्दी इंसान को दिया तो ये बीमारी होने की पूरी आशंका होती है।

एक दूसरे को छूने से भी हो सकता एड्स

स्किन टू स्किन टच- त्वचा से त्वचा का संपर्क होने पर एचआईवी इंफेक्शन होने का खतरा नहीं होता है लेकिन अगर किसी भी प्रकार का जख़्म त्वचा पर हो तो उससे ये बीमारी के फैलने का खतरा होता है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।