लद्दाख सांसद ने कहा- हां, चीन ने कब्जा किया लेकिन कांग्रेस शासन में, हमने तो उनको खदेड़ा है

New Delhi : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के ट्वीट का जवाब देते हुये लद्दाख से भाजपा सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल ने कहा है – हां चीन ने भारतीय जमीन पर कब्जा किया है, लेकिन कांग्रेस के कार्यकाल में। मुझे उम्मीद है कि राहुल गांधी और कांग्रेस तथ्यों के आधार पर मेरे जवाब से सहमत होंगे और उम्मीद है कि वह फिर से गुमराह करने की कोशिश नहीं करेंगे। राहुल गांधी ने ट्वीट करके पूछा था कि क्या चीन ने लद्दाख में भारतीय जमीन पर कब्जा कर लिया है।

 

भाजपा सांसद ने ट्वीट में दावा किया – चीन ने कांग्रेस के कार्यकाल में जरूर भारतीय जमीन पर कब्जा कर लिया था। 1962 में कांग्रेस शासन के दौरान अक्साई चिन (37,244 वर्ग किमी)। यूपीए के समय में 2008 तक चुमुर क्षेत्र में टिया पंगांक और चौबजी घाटी (250 मीटर लंबाई)। पीएलए द्वारा डेमजोक में जोरावर किले को 2008 में नष्ट कर दिया गया था और 2012 में यूपीए शासन के दौरान पीएलए के आबसर्विंग प्वाइंट को सेटअप किया और 13 सीमेंट वाले घरों के साथ चीनी कॉलोनी भी बनाई। यूपीए शासन के दौरान 2008-2009 में डुंगती और डेमजोक के बीच भारत ने डूम चेले (प्राचीन व्यापार बिंदु) को खो दिया।

सोमवार को राहुल गांधी ने लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर गतिरोध का परोक्ष रूप से हवाला देते हुए ट्वीट किया था- सब को मालूम है ‘सीमा’ की हक़ीक़त, लेकिन दिल के ख़ुश रखने को ‘शाह-यद’ ये ख़्याल अच्छा है। तब राजनाथ ने इसका जवाब दिया- मिर्ज़ा ग़ालिब का ही शेर थोड़ा अलग अन्दाज़ में है। ‘हाथ’ में दर्द हो तो दवा कीजै, ‘हाथ’ ही जब दर्द हो तो क्या कीजै..

 

इसके बाद अगले दिन राहुल ने एक बार फिर ट्वीट कर राजनाथ पर पलटवार किया। उन्होंने कहा- एक बार जब रक्षा मंत्री की हाथ के चिह्न पर टिप्पणी पूरी हो जाए, तो क्या वह जवाब दे सकते हैं कि क्या लद्दाख में चीन ने भारतीय क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ seventy six = eighty six