भारत में वायु प्रदूषण से हर साल 12 लाख लोगों की जाती है जान - ग्रीनपीस

भारत में वायु प्रदूषण से हर साल 12 लाख लोगों की जाती है जान - ग्रीनपीस

By: Amit Kumar
January 11, 22:01
0
New Delhi : भारत में वायु प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है और इस वजह से यहां हर साल तकरीबन 12 लाख लोगों की जान चली जाती है। ग्रीनपीस की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली देश का सबसे ज्यादा वायु प्रदूषित शहर है।

 हालांकि दिल्ली भारत का इकलौता प्रदूषित शहर नहीं है, जहां जहां सांस लेना मुश्किल है। ग्रीनपीस की रिपोर्ट के मुताबिक 24 राज्यों के 168 शहरों में वायु प्रदूषण का जहर फैलता हुआ है। इस रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण भारत के कुछ शहरों को छोड़कर भारत के किसी भी शहर में केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के प्रदूषण निंयत्रित करने के लिए बनाए गए मानकों की सीमा का पालन नहीं किया है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि इसका मुख्य कारण कोयला,पेट्रोल, डीजल का बढ़ता इस्तेमाल है। सीपीसीबी से आरटीआई के द्वारा प्राप्त सूचनाओं में पाया गया कि ज्यादातर प्रदूषित शहर उत्तर भारत के हैं। यह शहर राजस्थान से शुरु होकर गंगा के मैदानी इलाके से होते हुए पश्चिम बंगाल तक फैले हुए हैं। आरटीआई से प्राप्त सूचनाओं और वायु प्रदूषण पर हुए पुराने अध्ययन का गहराई से विश्लेषण करने के बाद पाया गया कि वायु प्रदूषण का मुख्य कारण जीवाश्म ईंधन है। इनके बढ़ते इस्तेमाल से वायु प्रदूषण बढ़ता जा रहा है।

 .

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

comments
No Comments