प्रेग्नेंट पत्नी के साथ दिव्यांग कोच में चढ़ा पति, दिव्यांग का सबूत नहीं देने पर महिला को पीटा

प्रेग्नेंट पत्नी के साथ दिव्यांग कोच में चढ़ा पति, दिव्यांग का सबूत नहीं देने पर महिला को पीटा

By: Madhu Sagar
October 12, 11:10
0
New Delhi:

अक्सर मुंबई लोकल में सफर करने वालें लोगों को काफी भीड़ का सामना करना पड़ता है। भीड़ भी इतनी ज्यादा होती है आपको पैर रखने की जगह भी ना मिले। ऐसे में कुछ लोग सहूलियत के लिए दिव्यांग डिब्बे में जगह तलाशते हैं। एक गर्भवती महिला और उसके पति ने यही 'भूल' कर दी और दो लोगों ने उन्हें पीट दिया। यह हैवानियत कुछ लोगों ने मोबाइल में कैद कर ली, लेकिन जीआरपी ने कुछ नहीं किया।

घटना कुर्ला और उल्हासनगर के बीच की है। दिनेश तिवारी अपनी 8 महीने प्रेग्नेंट पत्नी के साथ दिव्यांग डिब्बे में सफर कर रहे थे। उल्हासनगर के विट्ठलवाड़ी परिसर में रहने वाला दिनेश पिछले शनिवार को गर्भवती पत्नी को लेकर मुंबई के कामा अस्पताल गया था। जहां डॉक्टरों ने अरुणा को 3 दिन भर्ती रखा और कई जांचें कीं। मंगलवार को अरुणा को डिस्चार्ज कर 15 दिन बाद दोबारा आने को कहा। शाम 7 बजे दिनेश पत्नी अरुणा के साथ लौट रहा था। उसने सीएसएमटी स्टेशन से ट्रेन पकड़ी। भीड़ बहुत ज्यादा था, इसलिए गर्भवती पत्नी को भीड़ से बचाने के लिए वह कर्जत जाने वाली डबल फास्ट ट्रेन के दिव्यांग डिब्बे में चढ़ गया।

ट्रेन जब कुर्ला स्टेशन पहुंची, तो उसी डिब्बे में दो हट्टे-कट्टे व्यक्ति चढ़े। उन्होंने गर्भवती महिला और उसके पति से विकलांग होने का सबूत मांगा। तब महिला ने कहा कि भीड़ होने के कारण वे इस डिब्बे में चढ़ गए हैं और विट्ठलवाड़ी में उतर जाएंगे। इतना सुनते ही दोनों ने दिनेश को गाली देते हुए पीटना शुरू कर दिया। जब पत्नी छुड़ाने गई, तो उसकी भी लात-घूसों से पिटाई कर दी। गर्भवती को पिटता देख आस-पास के लोग उन दोनों आरोपियों पर टूट पड़े। लोगों का गुस्सा देख घबराए दोनों आरोपी डोंबिवली स्टेशन पर चलती ट्रेन से उतरकर फरार हो गए। 

 ट्रेन जैसे ही डोंबिवली स्टेशन पर रुकी, तब कुछ यात्रियों के साथ दिनेश जीआरपी पुलिस स्टेशन पहुंचे। उन्होंने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवानी चाही लेकिन, जीआरपी के सीनियर पीआई हीरेमठ 3 घंटे बैठाने के बाद सिर्फ एनसी के तहत मामला दर्ज किया। जब मीडिया ने हीरेमठ से सवाल किया, तब उनका जवाब था कि दोनों अज्ञात आरोपी कुर्ला स्टेशन से चढ़े थे। इसलिए एनसी की जांच कुर्ला जीआरपी करेगी। वहीं, वहां मौजूद लोगों ने जीआरपी मोबाइल विडियो-फोटो दिखाए।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।