HRD का IITs को निर्देश, लड़कियों के लिए अलग से बनाई जाए मेरिट लिस्ट

HRD का IITs को निर्देश, लड़कियों के लिए अलग से बनाई जाए मेरिट लिस्ट

By: Aryan Paul
January 14, 11:01
0
New Delhi:  HRD ने IIT को निर्देश दिया है कि 2018-19 में लड़कियों की मेरिट लिस्ट अलग से बनाई जाए। जो कि अभी 14% है, ताकि लड़कियों के एडमिशन को लेकर सही आंकड़े सामने आ सकें।

HRD का कहना है कि IIT अथॉरिटी को लड़कियों की अलग से लिस्ट बनानी चाहिए, ताकि लड़कियों के हो रहे एडमिशन की डिटेल अलग से मिल सके और उनका एडमिशन में कितना परसेंटेज है, ये भी पता चल सके। HRD का कहना है कि अगर IIT की कॉमन लिस्ट में लड़कियों की मैरिट 6% होती है तो उनके एडमिशन को बढ़ाने के लिए कॉलेज अलग से भी लड़कियों की मैरिट लिस्ट एड करें।

दूसरी बार प्रेग्नेंट हुई ये खूबसूरत बॉलीवुड एक्ट्रैस, जल्द मिलेगी खुशखबरी

javdekar

HRD ने इसके लिए एक अधिसूचना भी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि IIT में लड़कियों का एडमिशन डाटा 14% अचीव होना ही चाहिए। साथ ही लड़कों की संख्या 2017 के एडमिशन से कम नहीं होनी चाहिए । इसके साथ ही HRD का ये भी कहना है कि इसके लिए IIT को कानूनी सलाहकार की मदद लेनी चाहिए और हर पहलू पर ध्यान रखते हुए इसका पालन करना चाहिए।

अभी-अभी: 26 जनवरी से पहले सुरक्षा एजेंसियों का हाई अलर्ट, दिल्ली में छिपे हैं 3 संदिग्ध

students

बता दें कि HRD का प्लान है कि साल 2026 तक IIT कैंपस में लड़कियों का परसेंटेज 20% तक हर हाल में सुनिश्चित किया जाए। एक सीनियर IIT अधिकारी का कहना है कि HRD ने लड़कियों के लिए अलग से मैरिट लिस्ट बनाने का कहा है, ताकि पता चल सके कि रिजर्वेशन को लेकर लड़कियों की क्या स्थिति है। उन्होंने कहा कि यह मामला ज्वाइंट एडमिशन बोर्ड में 7 जनवरी को उठाया गया था।

javdekar

जानकारी के मुताबिक देश की सभी 23 IIT ने इस साल सीटें बढ़ाने का फैसला किया है। 2018 में एडमिशन बढ़कर 11,509 हो जाएंगे। इस साल IIT खड़गपुर अपने यहां 80 सीटें और बढ़ाएगी। अभी यहां कुल 1421 सीटें हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।