मंच के नीचे से मिलने के लिए चिल्लाती रही शहीद BSF जवान की बेटी, लेकिन नहीं मिले CM रूपाणी

मंच के नीचे से मिलने के लिए चिल्लाती रही शहीद BSF जवान की बेटी, लेकिन नहीं मिले CM रूपाणी

By: Madhu Sagar
December 02, 09:12
0
New Delhi: Gujarat के CM Vijay Rupani एक रैली को संबोधित कर रहें थे। इस दौरान उन्होंने एक शहीद BSF जवान की बेटी को मिलने से रोक दिया गया।

सीएम विजय रूपाणी गुजरात में रैली को संबोधित कर रहे थे,इसी दौरान शहीद जवान शहीद बीएसएफ जवान की बेटी को मिलने से महिला पुलिस कर्मियों ने रोक दिया। आदिवासी महिला की पहचान रूपल तडवी (26) के तौर पर हुई है। बता दें वह कई सालों से सरकार के झूठे वादों के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है कि उसके पिता अशोक तडवी के शहीद होने के बाद सरकार ने जो जमीन देने का कथित रूप से वादा किया था वह आज तक पूरा नहीं किया। उसने बताया कि उसके पिता बीएसएफ में थे और शहीद हुए थे।

Vijay Rupani

यह भी पढ़ें : आज गुजरात जाएंगे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पीएम मोदी से लेेंगे मोर्चा

रूपाणी शुक्रवार को यहां एक रैली को संबोधित कर रहे थे। रूपल दर्शकों में बैठी थी और अचानक से चिल्लाते हुए मंच की ओर दौड़ पड़ी, ‘मैं उनसे मिलना चाहती हूं। मैं उनसे मिलना चाहती हूं।’ इससे पहले कि वह मुख्यमंत्री के मंच तक पहुंच पाती एक महिला पुलिसकर्मी उसे वहां से ले गईं।

शहीद जवान की बेटी

यह भी पढ़ें : गुजरात: BJP का खेल बिगाड़ने को अरुंधति ने दिया 3 लाख का डोनेशन, मेवानी को इस तरह मिले 9 लाख

रूपाणी ने मंच से कहा, ‘मैं आपसे इस कार्यक्रम के बाद मिलूंगा।’ लेकिन कोई मुलाकात नहीं हुई। रूपल को पुलिस कर्मियों द्वारा ले जाने के दौरान बचने के लिए संघर्ष करने का वीडियो वायरल हो गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने घटना का वीडिया ट्विटर पर पोस्ट किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा का अहंकार अपने चरम पर है।

गुजरात

यह भी पढ़ें : राहुल के आरोपों पर टाटा की सफाई, गुजरात सरकार ने कंपनी को लोन दिया था, जिसे कंपनी लौटा रही है

राहुल गांधी ने हिंदी में ट्वीट करके आरोप लगाया ‘परम देशभक्त’ रुपाणीजी ने शहीद की बेटी को सभा से बाहर फेंकवा कर मानवता को शर्मसार किया। 15 साल से परिवार को मदद नहीं मिली, खोखले वादे मिले।’

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।