GST से हो रहा नुकसान नहीं थम रहा, एक्सपोर्ट में 14 महीनों में पहली बड़ी गिरावट

GST से हो रहा नुकसान नहीं थम रहा, एक्सपोर्ट में 14 महीनों में पहली बड़ी गिरावट

By: Aryan Paul
November 15, 13:11
0
New Delhi: GST के कारण जहां अभी तक देश में BUSNIESSMAN की दिक्कतें कम नहीं हई हैं, तो वहीं एक और बड़ी खबर ये है कि OCTOBER में EXPORT में 1.12 फीसदी गिरावट दर्ज की गई। हालांकि 14 महीनों में ये पहली गिरावट है।

दरअसल GST के कारण ही चमड़ा और चमड़े से बने प्रोडक्टस के एक्सपोर्ट में खासी दिक्कतें आ रही हैं। साथ ही हीरा, रेडीमेड, हस्तशिल्प और कालीन में भी गिरावट दर्ज की गई है। बता दें कि अक्टूबर में गिरावट आने के कारण जहां एक्सपोर्ट में 1.12 फीसदी की कमी हुई तो वहीं यह बढ़कर 23.09 अरब डॉलर का हो गया। GST के कारण कई और चीजों के एक्सपोर्ट में गिरावट आने की संभावनाएं हैं। 

विशेषज्ञों के मुताबिक, अगर ऐसी स्थिति में सुधार नहीं किया गया तो देश में रोजगार की स्थिति और बिगड़ सकती है। हालांकि निर्यातकों ने पहले ही यह चेतावनी दी थी कि GST की शुरुआत के बावजूद जुलाई और सितंबर में निर्यात में दोहरे अंकों में हो रही वृद्धि ठीक नहीं है, क्योंकि इसमें अग्रिम ऑर्डर के आंकड़े भी शामिल थे। रसायन, पेट्रोलियम और इंजीनियरिंग उत्पादों के निर्यात में विस्तार की वजह से पिछले छह महीने में सबसे ज्यादा वृद्धि देखी गई।


तो वहीं सितंबर में एक्सपोर्ट में 25.67 फीसदी तक की तेजी आई और यह 28.61 अरब डॉलर हो गया। यह भी विडंबना ही है कि एक्सपोर्ट में गिरावट उस महीने देखी गई जब काउंसिल ने निर्यातकों की ज्यादातर समस्याओं का समाधान किया, हालांकि ई-वॉलेट की शुरुआत अगले वित्त वर्ष तक हो सकती है। निर्यातकों ने शिकायत की थी कि जमीनी स्तर पर उपायों पर अमल नहीं किया जा रहा था। वहीं दूसरी ओर आयात में महज 7.6 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और यह 37.11 अरब डॉलर हो गया। 


कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी से अक्टूबर में तेल आयात बिल में 27.89 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई जबकि इससे पहले के महीने में 18.47 फीसदी तक की वृद्धि हुई थी। इस कैलेंडर वर्ष में कुल आयात में धीमी रफ्तार से वृद्धि के बावजूद व्यापार घाटा बढ़कर 14 अरब डॉलर के 35 महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गया। सितंबर में यह 8.98 अरब डॉलर के स्तर पर था जबकि एक साल पहले की समान अवधि के दौरान यह 11.13 अरब डॉलर के स्तर पर था। 
 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।