लड़की ने दोस्त को भेजी प्राइवेट फोटोज,लड़के ने कर दी वायरल और फिर हुआ ये अंजाम

लड़की ने दोस्त को भेजी प्राइवेट फोटोज,लड़के ने कर दी वायरल और फिर हुआ ये अंजाम

By: Madhu Sagar
September 12, 11:09
0
New Delhi:

यह घटना पंजाब के लुधियाना की है जहां एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा के निजी फोटोज वायरल होने की बात सामने आई है। 9वीं क्लास में पढ़ने वाली 14 साल की नाबालिग स्टूडेंट ने अपने दोस्त को प्राइवेट फोटोज भेजी जिसके बाद दोस्त ने फोटोज को फ्रेंड्स के साथ शेयर कर दिया। इतना ही नहीं उन दोस्तों ने लड़की को बदनाम करने की धमकी दी और उसके पिता को फोन करके 4 लाख रुपए मांगा।

ऐसा बताया जा रहा है कि इस मामले के मुख्य आरोपी मुनीष, राज (बदला हुआ नाम) समेत चार लोगों पर थाना सिटी पुलिस जगराओं ने आईटी एक्ट समेत कई धाराओं में पर केस दर्ज कर लिया गया है, लेकिन पुलिस ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। एसएसपी जगराओं सुरजीत सिंह गिल ने बताया कि इस मामले में चार लोगों को हिरासत में पूछताछ की जा रही है और मंगलवार को इस मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

नामजद युवकों में लड़की के करीब 17 साल के दगाबाज दोस्त 12वीं में पढ़ने वाले राज (बदला हुआ नाम) कारोबारी का बेटा है। जबकि तस्वीरें वायरल करने वाला मास्टर माइंड 30 साल का मुनीष भी पेट्रोल पंप मालिक का बेटा है। इन दोनों के अलावा पुलिस ने दो और युवकों को भी नामजद किया है जिनकी उम्र भी 18-20 साल के बीच बताई जा रही है।

आरोपी राज व मुनीष के अलावा एक फोटो स्टूडियो मालिक का बेटा और स्क्रैप कारोबारी का बेटा भी इस साजिश में शामिल रहे। आरोपी युवकों के घरवाले नेताओं से सिफारिश कर उनके नाम केस से निकालने का जुगाड़ लगाते रहे। हालांकि मामले की गंभीरता को समझते हुए पुलिस ने उनकी सुनवाई नहीं की।

 पुलिस मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में सभी आरोपियों के नाम का खुलासा करेगी। जगराओं पुलिस आरोपी मुनीष को कोट ईसेखां से गिरफ्तार करके लाई थी। पुलिस ने इससे पहले मुनीष के पिता और चाचा को भी रविवार देर रात घर से उठा लिया था और सोमवार की दोपहर को मुनीष के घर पर मौजूद महिलाओं को भी उठाने के लिए लेडीज पुलिस के साथ पहुंची थी।

इस दौरान इलाके की एक महिला काउंसलर के पति के कहने पर ही पुलिस लौट गई और उसने ही आरोपी को पेश करवाने की बात पुलिस से कही। पुलिस ने सोमवार को सिर्फ मुनीष को ही गिरफ्तार किया है, जबकि बाकी तीन रविवार देर रात से ही पुलिस के पास थे। इस संबंध में एसएचओ सिटी इंदरजीत सिंह ने कहा कि वह फिलहाल आधिकारिक तौर पर अभी कुछ नहीं कह सकते हैं। जांच जारी है और जल्द खुलासा कर दिया जाएगा।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

comments
No Comments