बिल्ली के रास्ता काटने या छींकने पर ही गधा रेंकने पर भी हो जाएं सावधान

बिल्ली के रास्ता काटने या छींकने पर ही गधा रेंकने पर भी हो जाएं सावधान

By: Sachin
April 08, 16:04
0
New Delhi: कईं बार बिल्ली के रास्ते काटना, किसी का छिकना या टोकने पर हम रुक जातें हैं लेकिन वहीं कुछ लोग इसे अंधविश्वास कहकर आगे बढ़ जाते हैं। बिल्ली के रास्ते काटने के अलावा आज हम आपको बताएंगे कुछ नया और अलग, जिसको आपको मानना ही होगा।

 21वीं सदी है, और हम वैज्ञानिक युग में रहते हैं लेकिन फिर भी ऐसी कई मान्यताएं हैं जो आज-तक नहीं बदली हैं। शकुन-अपशकुन इनमें से ही एक है। ऐसा नहीं हैं कि इन बातों को सिर्फ अनपढ़ लोग ही मानतें हैं बल्कि पड़े लिखे लोग भी इन बातों से जुड़े अंधविश्वास को मानते हैं। गौर करने वाली बात ये है शकुन-अपशकुन मानने की अवधारणा नई नहीं, बल्कि सदियों पुरानी है। यह कब शुरू हुई कहना मुश्किल है लेकिन लोग इसे मानते आ रहे हैं।

क्या है शकुन-अपशकुन

अगर सरल शब्दों में कहें तो कुछ ऐसी शक्तियां जो हमें भविष्य में होने वाली अच्छी/बुरी घटना का पूर्व संकेत देती हैं। इन्हीं को हम शकुन-अपशकुन का नाम देते हैं। जैसे नींबू, मिर्ची, काजल का टीका आदि। यह सभी किसी भी तरह के अपशकुन से बचने का साधन मात्र हैं।

जब कि शकुन सकारात्मक तौर पर देखे जाते हैं। शकुन का अर्थ है ऐसे शुभ लक्षण, जो हमारे मन में आत्मविश्वास पैदा करते हैं कि हमारा काम पूर्ण होगा।

कुछ रोचक शकुन-अपशकुन...

- सूर्य निकलने से पहले यदि नीलकंट के दर्शन हों तो यह बेहद शुभ शकुन माना जाता है।

- किसी सोते हुए व्यक्ति पर यदि बिल्ली गिर जाए तो यह अपशकुन माना जाता है। तब उसके ऊपर गंगा जल की कुछ बूंदे छिड़क देना चाहिए।

 .

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।