14 दिन रहना था आइसोलेशन में, चुपके से दूल्हा बन कर ली शादी, मास्क भी नहीं पहना, अब पूरा वारंगल परेशान

New Delhi : दुनियाभर में Corona Virus की वजह से अब तक 11 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. ढाई लाख से ज्यादालोग इसकी चपेट में हैं. भारत में भी यह वायरस तेजी से फैल रहा है. फिर भी लोग सतर्क नहीं हो रहे हैं. फ़िलहाल तेलंगाना के वारंगल मेंएक पढ़े लिखे जाहिल का मामला सामने आया है जिसने विदेश से लौटकर शादी की और शादी में एक हजार से ज्यादा लोग मेहमान थे. अब दूल्हे को क्वारंटाइन कर दिया गया है और रिसेप्शन को रद्द कर दिया गया है.

दूल्हा और उसका एक दोस्त शादी के लिए 12 मार्च को फ्रांस से हैदराबाद पहुंचे थे. उन्हें दो हफ्ते के लिए घर पर ही क्वारंटाइन रहना थालेकिन किसी तरह वह शादी के लिए वारंगल पहुंच गए. शादी में 1000 से ज्यादा लोग मौजूद रहे. कई वीआईपी गेस्ट भी शादी मेंशामिल हुए थे. शादी के दौरान तो दूल्हे और ही उसके दोस्त ने मास्क लगाया था. फिलहाल दोनों के संक्रमित होने की बात सामनेनहीं आई है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए राज्य में शादी के लिए बैंकट हॉल औरबड़े समूह से जुड़े सभी इवेंट्स पर बैन लगा दिया है. उन्होंने लोगों से अपील की है कि अगर उन्होंने पहले से किसी इवेंट की तैयारी कर लीहै तो कम से कम लोग उसमें शामिल हों.

विदेशों से जो लोग तेलंगाना लौट रहे हैं, वह कोरोना जांच क्वारंटाइन को लेकर शिकायत भी दर्ज करवा रहे हैं. उनका कहना है किएयरपोर्ट और क्वारंटाइन के लिए बनाई गई जगहों पर व्यवस्थाओं पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. साई चैतन्या तीन दिन पहले जर्मनी सेलौटे हैं. उन्हें रंगा रेड्डी जिले स्थित क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है. साई का कहना है कि यहां उन्हें मूल सुविधाएं भी नहीं दी जा रही हैं. उन्होंने कहा, ‘मेरा पासपोर्ट ले लिया गया है. क्या हम अपराधी हैं. क्यों हमें बसों में भरकर लाया गया और इस जगह पर छोड़ दिया गयाजबकि यहां पर सुविधाएं भी नहीं हैं.’ क्वारंटाइन सेंटर में ज्यादातर बुजुर्ग और बच्चे हैं. वह सरकार से मांग कर रहे हैं कि उन्हें घर जानेदिया जाए. सरकार का कहना है कि उन लोगों को घर तभी जाने दिया जाएगा, जब वह स्वप्रमाणित करेंगे कि वह घर पर अलग रहेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

59 − = fifty