शराब दुकानों पर भीड़ देख्र सरकार ने लगाई स्पेशल कोरोना फीस – 5 मई से दारू 70 फीसदी महंगी

New Delhi : दिल्ली सरकार ने देर रात आदेश जारी कर सोमवार को शराब पर ‘स्पेशल कोरोना फीस’ नाम से नया टैक्स लगाने की घोषणा की। इस तरह दिल्ली में अब मंगलवार से शराब महंगी हो जाएगी। दिल्ली सरकार के मुताबकि अब दिल्ली में एमआरपी पर 70% टैक्स लगेगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस टैक्स को स्पेशल कोरोना फीस नाम दिया है। आदेश में कहा गया है कि पुलिस सुबह 9 बजे से शाम 6.30 बजे तक दुकानें खुलवाये।

कोरोना आपदा की वजह से देश में लागू लॉकडाउन के तीसरे चरण में केंद्र सरकार ने शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी है। लोग सुबह से ही शराब की दुकानों के बाहर इकट्ठा होना शुरू हो गये। हालांकि, इस दौरान सरकार ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने को कहा है। लेकिन लोगों को शराब की दुकान का खुलना तो समझ में आया सोशल डिस्टेन्सिंग नहीं। इस दौरान देश के कई राज्यों में शराब की दुकानों पर कई किलोमीटर लंबी लाइने देखने को मिल रही हैं। कहीं कहीं ही सोशल डिस्अेन्सिंग का पालन करते हुये लोग दिखे। कई जगह तो पब्लिक को सोशल डिस्टेन्सिंग का पाठ पढ़ाने के लिये लाठी चार्ज करना पड़ा। दिल्ली में तो दोपहर होते होते अधिकांश दुकानें बंद कर दी गईं।
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने साफ निर्देश दिए हैं कि इस दौरान शारीरिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का पूरा ख्याल रखा जाए। हालांकि इसका ज्यादा असर देखने को नहीं मिला और लोगों ने सरकारी आदेश की जमकर धज्जियां उड़ाई। देश के अन्य राज्यों की तरह दिल्ली में भी सोमवार से शराब की दुकानें खुल तो गई हैं, लेकिन जगह-जगह अफरातफरी का माहौल भी है। लोग शारीरिक दूरी के नियमों का भी पालन नहीं कर रहे हैं। यहां तक कई जगहों पर पुलिस ने लाठियां तक भांजी हैं। इस बीच बढ़ती भीड़ के बाद दिल्ली पुलिस ने फिलहाल शराब की सभी दुकानों को बंद करने के लिए कहा है।

कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने की खातिर 24 मार्च से लम्बे लॉकडाउन के बाद सोमवार से शर्तों के साथ शराब की दुकानें खोलने का बड़ा असर देखने को मिला। करीब 40 दिन बाद खुलने वाली दुकानों पर लोग काफी पहले ही पहुंच गए। राजधानी लखनऊ के साथ प्रदेश के अन्य शहरों में भी शराब की दुकानें खुलने से पहले ही उनके बाहर काफी लम्बी लाइनें लग गई। इस दौरान कई जगह पर तो फिजिकल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी उड़ रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− three = one