खबर अच्छी है : केरल, ओडिशा, असम कोरोना को हराने की राह पर, 325 जिले में एक भी केस नहीं

New Delhi : देश में 325 जिले ऐसे हैं जहां पर कोई भी महामारी का केस नहीं आया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा – हमारी इस लड़ाई में अब तक फील्ड स्तर पर किये गये एक्शन के तहत 325 जिले ऐसे हैं जहां पर कोई भी केस नहीं आया है। ऐसे जिले जहां पहले केस आए थे लेकिन फील्ड एक्शन के द्वारा उनके नियंत्रण और ​कंटेनमेंट से संबंधित जो काम हुआ है उसके तहत पुडुचेरी में माहे एक ऐसा जिला है जहां पिछले 28 दिनों से कोई पॉजिटिव केस नहीं आया है। 17 राज्यों में ऐसे 27 जिले हैं जहां पिछले 14 दिनों से कोई पॉजिटिव केस नहीं आया है।

पुणे में पुलिस का फ्लैगमार्च। लॉकडाउन का सख्ती से पालन भी जरूरी

देश में अभी भी कोरोना संक्रमित लोगों का आंकड़ा सिर्फ 12 हजार के आसपास है। अपने देश के लिये यह बड़ी उपलब्धि है खासकर अगर विकसित देशों से तुलना की जाये तो। इस उपलब्धि में उत्तराखंड, ओडिशा, असम, केरल और हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों की अहम भूमिका है जो इस महामारी पर पूरी तरह काबू पाने में कामयाब साबित हो रहे हैं। इन राज्यों ने लॉकडाउन का सख्ती से पालने कराने, कोरोना हॉटस्पॉट की पहचान कर वायरस को वहीं तक सीमित रखने और प्रशासनिक सूझबूझ से इस पर जल्द ही नियंत्रण पा लिया।
केरल भारत के उन चुनिंदा राज्यों में से एक है, जहां कोरोना वायरस ने सबसे पहले कदम रखा था। यहां का कासरगोड जिला कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ और अकेले इस जिले में 168 मरीज मिल चुके हैं। गुरुवार को केरल में सिर्फ 7 नए मरीज मिले और इस तरह राज्य में मरीजों की संख्या 394 हो गई। राहत की बात यह है कि इनमें से 245 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं।
कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में ओडिशा ने शानदार नजीर पेश की। यहां कोरोना के कुल 60 पॉजिटिव केसेस मिले हैं और इनमें से 46 अकेले खुर्दा जिले से हैं। खुर्दा के 46 मरीजों में से 12 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। खुर्दा के अलावा भद्रक में 3, सुंदरगढ़, केंद्रपाड़ा, कालाहांडी, जाजपुर में 2-2 केस मिले हैं। अब नये केस नहीं आ रहे हैं।

डाक्टरों और मेडिकल कर्मियों को वेलइाक्विप्ड करना जरूरी है।

उत्तराखंड में भी कोरोना वायरस अपना असर नहीं दिखा सका है और यहां अभी तक कोरोना के सिर्फ 37 मरीज मिले हैं। इनमें से करीब आधे यानी 18 मरीज अकेले राजधानी देहरादून में मिले हैं। यहां 9 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। पिछले एक हफ्ते में यहां सिर्फ 2 नए मरीज मिले हैं। हिमाचल प्रदेश में अब तक 35 कोरोना मरीज मिले हैं। इनमें से भी 16 पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। नया केस नहीं आया है। असम सरकार ने कोरोना वायरस पर अपनी मजबूत पकड़ बना रखी है। राज्य में कोरोना वायरस के अब तक 34 मरीज मिले हैं जिनमें से 5 पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। राज्य में बीते एक हफ्ते में सिर्फ 5 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं, जिनमें से दो गुरुवार को ही सामने आए हैं। ये दोनों मरीज दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से लौटे कोरोना मरीजों के संपर्क में आए थे।
लव अग्रवाल ने बताया – स्वास्थ्य मंत्री और MoS,स्वास्थ्य ने बुधवार को एक वीडियो सम्मेलन आयोजित किया, जिसमें स्वास्थ्य अधिकारी और क्षेत्र के अधिकारी शामिल हुए। इस बैठक में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने जिला स्तर पर COVID19 के समूहों और प्रकोप के लिए सूक्ष्म योजना पर चर्चा की गई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन की राष्ट्रीय पोलियो निगरानी नेटवर्क टीम की सेवाओं का उपयोग करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा निगरानी को और मजबूत करने पर एक कार्य योजना तैयार की गई है।

कोरोना की जांच प्रक्रिया

ICMR के डॉ. रमन आर गंगाखेड़कर ने बताया कि आज तक हमने 2,90,401 लोगों का टेस्ट किया है इनमें से 30,043 लोग जिनका टेस्ट कल हुआ, उसमें 26,331 का टेस्ट ICMR नेटवर्क के 176 लैब में हुआ और 3,712 टेस्ट निजी लैब में हुए जिनकी संख्या 78 है। गृह मंत्रालय की प्रवक्ता पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया है कि लॉकडाउन के अंतर्गत पूरे देश में 3मई तक हवाई, रेल और सड़कों से यात्रियों का आवागमन बंद रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ seventy one = 79