MP की सियासत में भूचाल – दिग्विजय बोले- अब सिर्फ 3 कांग्रेसी और 1 निर्दलीय BJP के पास

New Delhi : Ex Chief Minister दिग्विजय सिंह ने बताया कि कांग्रेस के सभी विधायक वापस गए हैं। अब सिर्फ तीन कांग्रेसविधायक और एक निर्दलीय ही बीजेपी के पास हैं। उनको भी जल्द ही बीजेपी के चंगुल से छुड़ाने की कोशिश कर रहे हैं। हम उनके साथसंपर्क में हैं, जो निर्दलीय गया है, वो भी पुराना कांग्रेसी है। सब वापस जाएंगे।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बताया कि गुरुग्राम के होटल में ठहरने के दौरान भी कांग्रेस विधायक बिसाहू लाल सिंह और रामबाई हमारेसंपर्क में थे। बीजेपी के लोगों ने दलबल और झूठ बोलकर विधायकों को तोड़ने की कोशिश की थी, लेकिन हम पहले ही अलर्ट हो गएथे। दरअसल, मध्य प्रदेश के ये विधायक गुरुग्राम से सटे मानेसर के आईटीसी ग्रैंड भारत होटल में ठहरे हुए थे। कांग्रेस का दावा है किबीजेपी धनबल और गुमराह करके इन विधायकों को ले गई थी, ताकि मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार को गिराया जा सके।

इस बीच सूचना मिलते ही मध्य प्रदेश सरकार के दो मंत्री जयवर्धन सिंह और जीतू पटवारी के साथ ही कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजयसिंह वहां पहुंचे। इन्होंने फौरन 6 विधायकों को होटल से बाहर निकाल लिया। कांग्रेस का दावा है कि इस पूरे खेल में शिवराज सिंहचौहान और बीजेपी के तमाम दूसरे नेता शामिल थे।

बता दें कि भाजपा पर लगाए गए हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों के बाद मंगलवार सुबह से लेकर देर रात 1 बजे तक बड़ा सियासी घमासानछिड़ा रहा। दरअसल, सुबह दिग्विजय ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि भाजपा नेता भूपेंद्र सिंह बसपा विधायक रामबाई को अपने साथचार्टर्ड प्लेन से दिल्ली लाये हैं। हालांकि रामबाई के पति गोविंद ने दिग्विजय के आरोपों का खंडन किया और कहारामबाई अपनी बेटीसे मिलने दिल्ली गई हैं। लेकिन, शाम को अचानक भाजपा उपाध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली चले गए। दिग्विजयभी दिल्ली में हैं। इससे सियासी पारा और चढ़ गया।

देर रात खबर आई कि भाजपा ने दो निर्दलीय विधायक, बसपा विधायक रामबाई और करीब 6 कांग्रेसी विधायकों को गुड़गांव केआईटीसी मराठा होटल में एकत्रित किया है। इसके बाद भोपाल से दो कांग्रेसी मंत्री जीतू पटवारी और जयवर्धन सिंह को दिल्ली भेजागया। पटवारी ने बताया कि जब तक हम होटल पहुंचते, तब तक सभी विधायक होटल से किसी अज्ञात स्थान पर ले जाए जा चुके थे।सिर्फ रामबाई होटल के बाहर मिलीं। अब विधायकों को दिल्ली के मौर्या सैरेटन होटल में रखा गया है।

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, रात करीब 2 बजे कुछ विधायक होटल से अपना सामान लेकर बाहर निकलते दिखे। दिग्विजय ने कहा, ”भाजपा नेता रामपाल सिंह, नरोत्तम मिश्रा, अरविंद भदौरिया, संजय पाठक विधायकों को पैसे बांटने के लिए जा रहे थे। मुझे लगता हैकि होटल में 10-11 विधायक होंगे। सिर्फ 4 उनके (भाजपा) साथ हैं। हमारे लोग बिसाहूलाल सिंह और रमाबाई के संपर्क में हैं। दोनोंलौटना चाहते थे, लेकिन भाजपा ने उन्हें रोक दिया। कांग्रेस आज इस मुद्दे पर प्रेस कॉन्फेंस करेगी।

होटल में रामबाई (बसपा) पथरिया, बिसाहूलाल (कांग्रेस) अनूपपुर, हरदीप सिंह (कांग्रेस) सुवासरा, सुरेंद्र सिंह शेरा (निर्दलीय), संजीवकुशवाह (बसपा) भिंड, ऐंदल सिंह कंसाना (कांग्रेस) सुमावली ठहरे हुए हैं।

दिग्विजय दिल्ली में ही हैं। उन्हें जब विधायकों को होटल में एकत्रित करने की खबर मिली, तो वह भी होटल आईटीसी मराठा पहुंचे।लेकिन यहां उन्हें कोई नहीं मिला। दिग्विजय ने बताया कि विधायक बिसाहू लाल साहू, रामबाई, कांग्रेसी हरदीप सिंह डंग, निर्दलीयविधायक सुरेंद्र सिंह को भाजपा ने बंधक बना लिया है। ये सभी होटल में हैं और मुझे होटल में नहीं जाने दिया जा रहा। हालांकि मेरीसभी विधायकों से बात हो गई है, वो सुबह सभी साथ जाएंगे। CM कमलनाथ भी देर रात तक दिल्ली में मौजूद विधायकों से संपर्कसाधने की कोशिश करते रहे।

होटल में मौजूद विधायकों के फोन स्विच ऑफ मिले। भाजपा नेताओं ने भी पूरे घटनाक्रम पर मौन साध लिया है। सूत्रों ने बताया किहोटल में सपा विधायक राजेश शुक्ला, गोहद विधायक रणवीर जाटव, गिर्राज दंडौतिया, संजीव कुशवाहा भी हैं। हालांकि दिग्विजय नेइनके नामों की पुष्टि नहीं की।

हॉर्स ट्रेडिंग पर ग्वालियर में कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहामुझे कोई जानकारी नहीं है। ही मेरे सामने कोई तथ्यआए हैं सबलगढ़ से विधायक बैजनाथ कुशवाह ने कहामुझे भाजपा ने ऑफर दिया है। इसकी रिकॉर्डिंग है। उन्होंने मंत्री गोविंद सिंह सेभी मुलाकात की। दमोह विधायक राहुल सिंह ने कहामुझे भी ऑफर मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight + one =