गहलोत बोले- मैं सब्जी बेचने नहीं आया, CM हूं, वो निकम्मा-नकारा 6 महीने से साजिशें कर रहा था

New Delhi : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजस्थान कांग्रेस से सचिन पायलट को पूरी तरह से आऊट करने के लिये एग्रेसिव हो गये हैं। ऐसे प्रयास हो रहे हैं कि हमेशा के लिये सचिन पायलट के रास्ते बंद हो जायें। उन्होंने 20 जुलाई को सचिन पायलट से बात करते हुये कहा- वो निकम्मा और नकारा आदमी है। पिछले छह महीने से विराधियों के साथ मिलकर सरकार को गिराने की साजिशें रच रहा था। लेकिन मैं भी सीएम हूं, तरकारी बेचने के लिये नहीं आया हूं।

 

उन्होंने कहा- मुझे साजिशों के बारे में खबर मिल रहीं थीं। छह महीने से यह चल रहा था। लेकिन जब मैं पार्टी में लोगों को बताता था तो उन्हें विश्वास ही नहीं होता था कि इतने मासूम से चेहरे के पीछे इस कदर की साजिशें हो सकती हैं। उसने राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रहते हुये नेताओं के बीच केवल झगड़े लगाये और माहौल खराब करता रहा। लेकिन किसी भी मीडिया, अखबार में चार लाइन की भी खबर आई कि सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाना चाहिये।
उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ दिनों से राजस्थान में कांग्रेस की अशोक गहलोत की सरकार संकट से घिरी हुई है। सचिन पायलट अपने समर्थक विधायकों के साथ गुड़गांव में अड‍्डा जमाये हुये हैं। उनसे कांग्रेस ने कई बार अपील की कि वे कांग्रेस में आकर जयपुर पहुंचे पर्यवेक्षकों से अपनी बात रखें। ऐसा लग रहा है कि वे मुख्यमंत्री पद हर हाल में चाहते हैं।
इस बीच एक आडियो टेप केस भी हो गया। जिसमें गहलोत सरकार को गिराने के एवज में पैसों का भुगतान होने की चर्चा है। सरकार की टैपिंग से कई नामों का खुलासा हुआ, जिसमें केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह और संजय जैन के नाम प्रमुख रूप से शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventy three − = sixty four