ऑनलाइन क्लास के WhatsApp ग्रुप पर महिला टीचर ने लिखा- पाकिस्तान हमारी प्रिय मातृभूमि है

New Delhi : गोरखपुर के जीएन पब्लिक स्कूल की कक्षा-चार की एक क्लास टीचर ने ऑनलाइन पढ़ाई के लिए बने वाट्सएप ग्रुप पर Noun (संज्ञा) समझाने के लिये दिये गये उदाहरणों से विवाद खड़ा हो गया है। शिक्षिका ने पाकिस्तान को लेकर कई उदाहरण दिये हैं, जिस पर अभिभावकों ने आपत्ति जताई हैं। हालांकि मामले को तूल पकड़ता देख शिक्षिका ने तत्काल पहले वाले उदाहरण को हटा दिया।

शिक्षक शादाब खानम ने संज्ञा समझाने के क्रम में कुछ ऐसे उदाहरण दिये – 1. पाकिस्तान हमारी प्रिय मातृभूमि है। 2. मैं पाकिस्तानी सेना में शामिल होऊंगा और 3. रशीद मिनहद एक बहादुर सैनिक था।

जैसे ही कुछ अभिभावकों ने इसे ग्रुप पर देखा, तत्काल स्क्रीन शॉट लेकर वायरल कर दिया। इसको लेकर लोगों में रोष है।

टीचर शादाब खानम ने कहा- मेरा मकसद बच्चों को आसान तरीके से संज्ञा समझाना था। इसके लिए मैंने गूगल से सर्च कर सबसे छोटा उदाहरण ढूंढा। मैंने यह नहीं देखा कि पाकिस्तान है, चाइना है या फिर अमेरिका। जब बाद में मेरे संज्ञान में आया कि इससे लोगों को तकलीफ पहुंची है तो तत्काल मैंने इसे बदल दिया।

स्कूल के प्रबंधक गोरक्ष प्रताप सिंह ने कहा- जैसे ही मेरे संज्ञान में मामला आया मैंने शिक्षक से इस बारे में पूछा। उन्होंने स्वीकार किया है कि उनसे गलती हो गई है। मैंने उन्हें नोटिस दे दिया है। स्पष्टीकरण के बाद आगे कार्रवाई की जायेगी।
स्कूल मैनेजमेंट ने शिक्षिका को शिक्षण कार्य से रोकने के साथ ही मामले की जांच के लिये कमेटी गठित कर दी। हालांकि स्कूल कमेटी ने बयान जारी कहा है – शिक्षिका का यह अपराध अक्षम्य है। विद्यालय की तरफ से एनसीईआरटी द्वारा प्रमाणित पुस्तकों का अवलोकन करते हुए ही अध्यापन कार्य करने की अनुमति है। हमें अपनी राष्ट्रीयता का हर स्तर पर सम्मान करना होगा। जो भी इसके विरुद्ध आचरण करेगा, उस पर कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one + three =