ये सागर नहीं अजूबा है, इस वजह से हर साल 4 फीट सूख रहा है

ये सागर नहीं अजूबा है, इस वजह से हर साल 4 फीट सूख रहा है

By: Madhu Sagar
September 10, 13:09
0
NEW DELHI: जॉर्डन, इजरायल और फिलस्तीन के बीच मौजूद डेड सी सूखने की कगार पर पहुंच रहा है। एन्वायरमेन्टलिस्ट ग्रुप इकोपीस मिडल ईस्ट के मुताबिक, ये हर साल 4 फीट सूख रहा है। आइए जानते हैं इसके बारे में कुछ खास बातें

 हाल ही में जर्मन फोटोग्राफर मोरिट्ज कुशनर अपनी फोटो स्टोरी ‘द डाइंग डीड सी’ पूरी करने के लिए इजराइल और जॉर्डन की सीमा पर मौजूद डेड सी (मृत सागर) पहुंचे थे। उन्होंने भी यहां का ऐसा ही हाल बताया। दुनिया का यह अनोखा सागर है, जो धरती की सबसे निचली यानी समुद्र तल से 1,388 फीट नीचे है।

मोरिट्ज कहते हैं कि यह सागर तेजी से सिकुड़ रहा है और इसे अभी संरक्षित नहीं किया गया, तो एक दिन पूरा सागर लुप्त हो जाएगा। मृत सागर में पानी का मुख्य स्रोत आसपास के प्राकृतिक जलाशय और जॉर्डन नदी है। 1960 के दशक के बाद से जलाशयों के पानी का मार्ग बदल दिया गया और नदी में भी पाइपलाइन डाल दी गई।  इसके जरिये पानी इजरायल पहुंचने लगा। इस तरह मृत सागर के लिए पानी का सोर्स लगभग खत्म हो चुका है। 

पानी का भंडार कम होने का एक बड़ा कारण मिनरल उद्योग भी हैं, जो उस क्षेत्र में ज्यादा सक्रिय हैं। ये उद्योग डेड सी के पानी का इस्तेमाल कॉस्मेटिक प्रोडक्ट बनाने में करते हैं। मृत सागर कई मायनों में बहुत अहम है। दुनियाभर के टूरिस्ट इसे देखने आते हैं। इतना ही नहीं, उसके पानी में भी नहाने हैं, क्योंकि उसका पानी और मिट्‌टी स्किन के लिए फायदेमंद है।

पिछले साल इजरायल और जॉर्डन ने इसे बचाने के लिए एक प्रोजेक्ट साइन किया है। उसके प्रजोक्ट के जरिए रेड सी (लाल सागर) से डेड सी तक पानी पहुंचाया जाएगा। वहीं, अन्य पाइपलाइन इजरायल और जॉर्डन तक पहुंचाई जाएगी, ताकि उन्हें भी पानी मिलता रहे।

 .

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।