इंजीनियर चायवाला- विथ जॉब सटिस्फैक्शन : लाखों की नौकरी छोड़कर चौराहे पर खोली चाय की टपरी

New Delhi : नौकरी में ज्यादातर लोग परेशान ही रहते हैं। बहुत कम लोग हैं जिनको अपने रोज के काम में या नौकरी रोजगार में सुकून मिलता है। कुछ लोग तो जिंदगी भर इस सुकून की तलाश में इधर उधर भटकते हैं। कितने लोग सालों साल सुकून हासिल करने के लिये नौकरी करते हुये ही घुटते रहते हैं। हिम्मत नहीं कर पाते आगे बढ़ कर कुछ कर पाने की क्योंकि उन्हें डर सताता रहता है कि क्या होगा मेरा, मेरे परिवार का अगर मैं नौकरी छोड़ दूं। ज्यादातर लोगों के लिये यह बड़ी समस्या होती है। नौकरी के दायरे को पार कर कुछ अलग करने की और सुकून हासिल करने की। फाइनैन्शियल बाधाएं भी लोगों को रोकती हैं। लेकिन दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो इस दायरे को तोड़ते हैं और सुकून हासिल करते हैं।

नौकरी का दायरा तोड़कर सुकून हासिल करनेवालों में ही एक हैं इंजीनियर चायवाला। इन्होंने जबसे ठेला लगाया है, तब से लोगों की यहां कतार लगी है। लोग उत्सुकतावश इंजीनियर चायवाला के ठेले पर चाय पीने आते हैं। उनके तस्वीर की एक फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। इस सोशल मीडिया पोस्ट में इंजीनियर चायवाले ने लिखा है- वैसे तो मैं सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूं। मैं कई कंपनियों जैसे विप्रो, बिज़नेस इंटेलीजेंस, ट्रस्ट सॉफ्टवेयर में काम कर चुका हूँ। जहां पैसे तो मिलते थे लेकिन सुकून नहीं। मैं हमेशा से ही बिज़नेस करना चाहता था। हर रोज़ मेरे टेबल पर चाय आती थी पर मुझे कभी बेहतरीन चाय नहीं मिली। मैं हमेशा से ही चाय का शौक़ीन रहा हूँ, मैं चाहता था कि लाजवाब चाय पीने को मिले। तो मैंने चाय से ही अपने बिज़नेस की छोटी शुरुआत की और मैं बन गया… इंजीनियर चायवाला।
इंजीनियर चायवाले का टैगलाइन है- with job satisfaction। आईएएस अफसर अवनीश शरण ने जब यह पोस्ट शेयर की तो यह वायरल हो गया। आईएएस शरण ने ट‍्वीट किया- आज के समय में इतनी ईमानदारी कहाँ दिखती है…सब कुछ साफ़ साफ़ बता दिया इन्होंने!! ‘इंजीनियर चायवाला’ with job satisfaction।

लोगों ने इंजीनियर चायवाले की जमकर तारीफ की। और ये चायवाले हैं छिंदवाड़ा के एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर अंकित नागपाल। नौकरी करने वाले अंकित नागवंशी लाखों कमाते थे। शहर के ELC चौक में खुद का चाय का ठेला लगाकर व्यापार शुरू किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifty eight − fifty three =