दिल्ली हिंसा : ईरान के सर्वोच्च नेता खुमैनी बोले- हिंदू अतिवादियों को कंट्रोल करें मोदी

New Delhi : दिल्ली हिंसा पर Iran ने एक बार फिर भारत पर तल्ख टिप्पणी की है. ईरान के सर्वोच्च नेता Ayatollah Khumaini नेदिल्ली हिंसा में हुई मौतों के मामले पर कहा है कि भारत अपने हिंदू अतिवादियों पर लगाम लगाए. उन्होंने यह भी कहा है कि दिल्ली मेंहुई हिंसा को लेकर पूरी दुनिया के मुस्लिमों में रोष है. Ayatollah Khumaini ने गुरुवार को किए गए एक ट्वीट में यहां तक कह दिया किदिल्ली हिंसा में मुस्लिमों पर हुए अत्याचार को लेकर दुनियाभर के मुसलमान दुखी हैं.

अयातुल्लाह खुमैनी ने कहाभारत में हुए मुस्लिमों के नरसंहार पर पूरी दुनिया दुखी है. मुस्लिमों के नरसंहार पर भारत सरकार को हिंदूअतिवादियों को रोकना चाहिए, उनकी पार्टी को रोकना चाहिए. अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो भारत सभी मुस्लिम देशों के बीच अलगथलग पड़ जाएगा.

एक अन्य ट्वीट में अयातुल्लाह खुमैनी ने कहा है कि हम भारत में हिंदु अतिवादियों द्वारा मुस्लिमों की हत्या की निंदा करते हैं. अयातुल्लाहखुमैनी की मांग है कि भारत सरकार हिंदू अतिवादियों और उनके समर्थकों को मुस्लिमों के कत्लेआम से रोके. अगर भारत मुस्लिम जगतसे अपना संबंध रखना चाहता है. इससे पहले दिल्ली हिंसा पर ईरान के विदेश मंत्री जवाद जरीफ ने गहरी चिंता जताते हुए इसेअल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफसंगठित हिंसाकरार दिया था. उन्होंने भारत सरकार सेसभी भारतीयों और कानून के राजका ध्यानरखने और शांतिपूर्ण संवाद के जरिए मसलों को सुलझाने का आग्रह किया था.

दिल्ली हिंसा पर दिए गए ईरान के बयान को पाकिस्तान ने सराहा था. वहीं भारत ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई थी और कहा था कि उसेअपने आंतरिक मामलों में किसी का दिल मंज़ूर नहीं है। भारत ने साफ कर दिया था कि ईरानी विदेश मंत्री ने हिंसा को व्यापक रूप सेदेखने के बजाए जिस तरह से चयनात्मक तरीके से देखा है, वह उसे पूरी तरह से खारिज करता है.

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने ईरान के बयान का स्वागत किया था और कहा था कि भारतीय मुसलमानों की सुरक्षा औरउनकी देखरेख पर अपने भाई जरीफ द्वारा जताई गई चिंता को पूरी तरह से साझा करता हूं.

ईरान और भारत के संबंध ऐतिहासिक रूप से हमेशा से अच्छे रहे हैं लेकिन, हाल के समय में ईरान की तरफ से भारत के प्रति कुछआलोचनात्मक बयान आए हैं. कश्मीर मुद्दे पर भी ईरान ने भारत के रुख का समर्थन नहीं किया और सर्वोच्च ईरानी धर्म गुरु अयातुल्लाअली खामनेई ने कश्मीर में दमन का आरोप लगाया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + one =