दिल्ली हिंसा : अंकित की हत्या, आगज़नी का आरोपी ताहिर हुसैन फ़रार, कहीं नहीं मिल रहा पुलिस को

New Delhi :  दिल्ली में हिंसा पर पूरी तरह से क़ाबू पा लिया गया है लेकिन कई इलाक़े के लोग डर से अभी भी यहाँ वहाँ समूहों में छिपेहुए हैं. अब इन लोगों को फिर से घरों में बसाना और सुरक्षा मुहैया कराना दिल्ली पुलिस के सामने बड़ी चुनौती है. बहरहाल चुनौती तोताहिर हुसैन भी बन गया है जो दिल्ली पुलिस के तमाम प्रयासों के बाद भी नहीं मिल रहा है. फ़रार हो गया है.

दिल्ली हिंसा में अभी तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली हिंसा में अब तक 167 FIR दर्ज की जा चुकी है. आर्म्स एक्ट के तहत 36 केस दर्ज हुए हैं. अब तक हिरासत में लिए गए और गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या 885 तक पहुंच चुकी है. पुलिस ने सोशल मीडियामें भड़काऊ पोस्ट को लेकर भी शिकंजा कसा है. इस मामले से जुड़े 13 केस दर्ज हो चुके हैं. दिल्ली में हिंसा से जुड़े 12 मामलो में SIT नेcyber cell से मदद मांगी है. उपद्रवियों की पहचान के लिए सीसीटीवी के खराब क्वालिटी वाले विजुअल्स सौंपे गए हैं.

दिल्ली हिंसा में फरार चल रहे पार्षद ताहिर हुसैन की तलाश में दिल्ली पुलिस ताहिर हुसैन के पुश्तैनी घर अमरोहा भी पहुंची है. आमआदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन पर आईबी कर्मी अंकित शर्मा की हत्या के गंभीर आरोप हैं. परिजनों के मुताबिक, ताहिरहुसैन के इशारे पर अंकित की हत्या की गई. दिल्ली के खजूरी खास इलाके में ताहिर हुसैन के घर के बाहर पुलिस तैनात है.

हिंसाग्रस्त नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के लगभग सभी इलाकों में हालात तेजी से सामान्य हो रहे हैं. जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और सीलमपुर मेंरविवार सुबह सड़कों पर आम लोगों की अच्छी खासी भीड़ देखने को मिली.

किसी भी तरह की हिंसा अब हो, इसके लिए पैरामिलिट्री फ़ोर्स के जवान रात भर हिंसाग्रस्त इलाकों में गश्त कर शांति व्यवस्था बनाएहुए हैं. रात भर फ़ोर्स मौजपुर, करावल नगर, भजनपुरा, सीलमपुर, जाफराबाद जैसे इलाको में सड़कों पर गश्त कर रही है. बीती रात 3 बजे मौजपुर इलाके में पैरामिलिट्री फ़ोर्स काफी तादाद में तैनात रही. फ़ोर्स हर गली में जाकर लोगों पर नज़र रख रही है. अभी तक हिंसामें 1000 से ज़्यादा सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है. नॉर्थ ईस्ट दिल्ली और मौजपुर में अब पूरी तरह शांति है.

ताहिर हुसैन की छत से पथराव और पेट्रोल बम फेंकने का वीडियो वायरल हुआ था. दूसरी ओर, हिंसा के दौरान दिल्ली पुलिस कीकार्यशैली पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. इसी के साथ मौजपुर में 26 तारीख को एक गली में घुसे उपद्रवियों की तस्वीरें सीसीटीवी में कैदहो गई हैं. 26 फरवरी को मौजपुर में कर्फ्यू के बीच उपद्रवियों के हाथ में हथियार दिखे हैं. इस इलाके में 25 फरवरी को ही कर्फ्यू लगायाजा चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixty eight − = sixty five