CM Yogi का बड़ा फैसला : दूसरे राज्यों में फंसे यूपी के मजदूरों को वापस लाया जायेगा

New Delhi : कोरोना आपदा और लॉकडाउन के दौरान दूसरे प्रदेश में फंसे मजदूरों पर CM Yogi Adityanath ने बड़ा फैसला लिया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने तय किया है कि दूसरे राज्यों में फंसे उत्तर प्रदेश के मूल निवासी श्रमिकों को वापस लाया जाएगा। इन्हें वापस लाकर इनके जिले में फिर से 14 दिन क्वारंटाइन किया जाएगा। जांच के बाद स्वस्थ होने पर घर भेजेंगे। हर श्रमिक को मुफ्त राशन और 1000 रुपये भी दिया जाएगा।

मजदूरों का पलायन व्यापक पैमाने पर हुआ लॉकडाउन शुरू होने के साथ ही। सभी अपनी गांव घर गये।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि राज्य में आगामी तीन से छह महीनों के भीतर कम से कम 15 लाख लोगों के रोजगार सृजन की ठोस कार्य योजना बनायी जाये। उन्होंने इसके सम्बन्ध में विभिन्न विभागों को एक सप्ताह के भीतर कार्य योजना बनाकर प्रस्तुत किए जाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि एमएसएमई, ओडीओपी, एनआरएलएम, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण, दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना, कौशल विकास मिशन, खादी ग्रामोद्योग तथा मनरेगा के माध्यम से रोजगार सृजन के कार्यों में तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बाद रोजगार सृजन और अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाना चुनौती है, जिसके लिए अभी से तैयारी की जाए। एक सरकारी बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां अपने सरकारी आवास पर उत्तर प्रदेश में रोजगार सृजन सम्बन्धी प्रस्तुतिकरण के अवसर पर अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = one