CM Yogi बोले – और अधिक कड़ाई से होगा लॉकडाउन का पालन, हॉटस्पॉट को युद्ध स्तर पर सैनिटाइज करेंगे

New Delhi : PM Modi ने आज कोरोना आपदा की वजह से लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया है। 24 मार्च को प्रधानमंत्री ने 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी जिसके मुताबिक आज 14 अप्रैल को लॉकडाउन समाप्त हो रहा था। बहरहाल प्रधानमंत्री के इस फैसले के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लॉकडाउन का पालन पूरी मजबूती के साथ करेंगे। पूरी सरकार एवं प्रशासन, हजारों स्वयंसेवी संगठन व संस्थायें 23 करोड़ जनता की सेवा में दिन-रात लगकर कोरोना को परास्त करेंगे। उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन की कार्यवाही को पूरी मजबूती के साथ लागू करेंगे।
उन्होंने कहा कि भारत की 130 करोड़ जनता के उत्तम स्वास्थ्य व सुरक्षित भविष्य के लिए उठाया गया यह महत्वपूर्ण कदम है। हम इसका स्वागत करते हैं। मुख्यमंत्री ने आज टीम 11 के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाये जाने का स्वागत किया। इसे देश हित मे करार दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन को कड़ाई से लागू किया जाएगा। चिकित्सा सेवाओं को शुरू किया जाना आवश्यक है। Covid 19 के साथ ही दूसरे इलाज भी जरूरी हैं। जो लोग गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं, ऐसे लोगों को तुरन्त मेडिकल सुविधाओं को देना जरूरी है। मेडिकल स्टाफ को निरंतर ट्रेनिंग देने की बात मुख्यमंत्री ने कही। उन्होंने कहा कि प्राइवेट हॉस्पिटल में भी PPE किट उपलब्ध कराये जायेंगे।

उत्तर प्रदेश में 21 दिनों के लॉकडाउन की अवधि में कोविड-19 के 647 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 389 जमाती हैं। सबसे अधिक रोगी आगरा में 139 हैं। हालांकि, राहत की बात है कि, अब तक 49 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं। इससे मरीजों के जीवन पर सकारात्मक असर भी पड़ रहा है। वे अब दूसरों को सरकार की गाइडलाइन का पालन करने के लिए जागरुक कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण 43 जिलों में फैल गया है। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा है कि सीएम का आदेश है कि लॉकडाउन का पूरी कड़ाई से पालन कराया जाए। पूरे प्रदेश में चिन्हित किए गए हॉटस्पाट इलाकों में पूरी तरह से सैनिटाइजेशन का काम बड़े पैमाने पर किया जा रहा है।
मंगलवार को पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि प्रशासन की ओर से सभी को खाद्यान की आपूर्ति सुनिश्चित करायी जाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में धारा 188 के तहत 17585 एफआईआर दर्ज की गई हैं। कालाबाजारी को लेकर अब तक 406 एफआईआर दर्ज हुई हैं। अब तक यूपी में जितने केस हुए हैं उसमें 443 हॉटस्पॉट में ही शामिल हैं। अवनीश अवस्थी ने बताया कि शाम को पांच बजे योगी आदित्यनाथ स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

44 − forty two =