चिराग बोले : पापा ने कहा था- अगर शेर का बच्चा होगा तो जंगल जीत लेगा, सियार खत्म हो जायेगा

New Delhi : लोक जनशक्ति पार्टी अध्यक्ष चिराग पासवान फिलहाल बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान चर्चा का केंद्र बने हुए हैं। बिहार चुनाव में एनडीए से अलग होने और लड़ने के लिए पूछे गए सवाल पर टीवी चैनल आजतक से बात करते हुए उन्होंने जवाब में कहा कि उन्हें एनडीए से अलग होने के फैसले पर अफसोस नहीं है और न ही वह इस फैसले से डरते हैं। अपने पिता रामविलास पासवान के शब्दों को याद करते हुए उन्होंने कहा कि पापा कहते थे कि अगर शेर का बच्चा होगा तो जंगल जीत लेगा और अगर सियार हुआ तो उसे खत्म कर दिया जाएगा। मैं भी अब खुद को परखने गया हूं। अगर मैं एक शेर का बच्चा हूं, तो मैं जंगल में जीत लूंगा। नहीं तो मुझे वहीं खत्म कर दिया जाएगा।

पहले प्रधानमंत्री की तस्वीर का इस्तेमाल न करने की चेतावनी, फिर वोट को लेकर बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर और बिहार के डिप्टी सीएम का बयान। वोटकटवा कहा जाने से आहत लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह शब्दावली बीजेपी नेताओं की नहीं है, बल्कि उनसे कहा जा रहा है।
चिराग ने कहा है कि मेरे पिता के आईसीयू में भर्ती होने पर प्रधानमंत्री मोदी ने मेरा हौसला बढाया, साथ दिया। ऐसे में मुझे मोदी जी का सम्मान क्यों नहीं करना चाहिए। जहां तक ​​सीएम लोजपा और भाजपा के बीच की दूरी जानने के इच्छुक हैं, मैं यह कहकर इस डर को दूर करना चाहूंगा कि मैं भाजपा नेताओं की आलोचना का स्वागत करता हूं, वे कुछ भी कहने के लिए स्वतंत्र हैं। लेकिन कम से कम उनकी शब्दावली सही है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में पीएम मोदी बिहार में चुनावी रैली भी करेंगे, अगर वह मेरी आलोचना करते हैं तो मैं उनका भी स्वागत करूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

29 + = thirty six