केंद्र ने 77 सवाल पूछे- अलीबाबा ने भारत से समेटा UC Browser का कारोबार- गुरुग्राम-मुंबई ऑफिस बंद

New Delhi : 59 चीनी ऐप्स बंद करने के फैसले के बाद का असर नजर आने लगा है। सरकार के फैसला सुनाने के बाद चीन की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ने भारत से यूसी ब्राउजर और यूसी न्यूज का कारोबार बंद कर दिया है। यूसी ब्राउजर के कर्मचारियों को औपचारिक तौर पर बोल दिया गया है कि कंपनी अपने ऑपरेशंस को भारत में बंद कर रही है। गुरुग्राम और मुंबई का ऑफिस बंद कर दिया गया है। अलीबाबा के इस फैसले भारत में कार्यरत कर्मचारियों को बहुत परेशानी हो रही है। एक तो लॉकडाउन ऊपर से नौकरी गई।

दरअसल केंद्र सरकार ने अलीबाबा और टिकटॉक समेत बैन किये गये सभी चीनी कंपनियों से 77 सवालों की एक लिस्ट सौंपी है। जिसका एक प्रमुख सवाल था- क्या आप अपने हिसाब से किसी पोस्ट को ज्यादा दिखाते हैं और किसी को कम? क्या आप पोस्ट्स को रेगुलेट करते हैं?
सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म को समझने वाले ये जानते हैं कि लगभग सभी कंपनियां ये काम करती हैं। ऐसे में उनके लिये केंद्र सरकार के इन सवालों का जवाब देना मुश्किल भरा था। और यह भी निश्चत था कि इन सवालों का जवाब देने के बाद भी इन कंपनियों का भला होनेवाला नहीं क्योंकि इसका सीधा मतलब ये होगा कि वे चीजों को अपने हिसाब से मैनीपुलेट करती हैं और ये निजता का उल्लंघन है।
बहरहाल यूसी ब्राउजर के कर्मचारियों को यह भी कहा गया है कि उन्हें कंपनी, ऑपरेशंस बंद करने का फैसला लेने के लिये नियमानुसार मुआवजे का भुगतान किया जायेगा। यूसी ब्राउसर अलीबाबा के अधीन काम करने वाली कंपनी है। ये भारत में गूगल के बाद सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला ऐप था। अलीबाबा दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियों में से एक है जिसके संस्थापक जैक मा हैं।
भारत सरकार ने आंतरिक सुरक्षा का हवाला देते हुए चीन के 59 ऐप्स पर पाबंदी लगा दी थी। इन सभी कंपनियों को सरकार ने अपना पक्ष रखने के लिए कहा था। इस बीच अलीबाबा ने बिना कोई सफाई दिए ही कारोबार समेटने का फैसला किया है। अलीबाबा यूसी वेब के तहत भारत में चार इकाईयों यूसी ब्राउजर,यूसी न्‍यूज, वीमेट और 9एप्‍स का संचालन करती है। लॉन्‍च के एक साल बाद यूसी न्‍यूज ने दावा किया था कि उसके भारत में 8 करोड़ यूजर्स हैं।

अलीबाबा ने भारत और इंडोनेशिया में यूसी न्‍यूज कारोबार में 200 करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की थी। भारत में 13 करोड़ एक्टिव यूजर्स के बावजूद यूसी न्‍यूज की रैंकिंग गूगल प्‍ले स्‍टोर पर टॉप 500 लिस्‍ट में भी नहीं रह गई थी। वर्तमान में 5लाख से भी कम लोग दैनिक आधार पर यूसी न्‍यूज को ओपन कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight + one =