राहुल के आरोपों पर टाटा की सफाई, गुजरात सरकार ने कंपनी को लोन दिया था, जिसे कंपनी लौटा रही है

राहुल के आरोपों पर टाटा की सफाई, गुजरात सरकार ने कंपनी को लोन दिया था, जिसे कंपनी लौटा रही है

By: Aryan Paul
December 02, 08:12
0
New Delhi: TATA MOTORS ने राहुल गांधी को आरोपों पर अब अपनी चु्प्पी तोड़ी है। कंपनी की ओर से कहा गया है कि उन्हें GUJRAT G0VT से कोई लाभ नहीं मिला । राहुल गांधी के सभी आरोप बेबुनियाद है।

दरअसल गुजरात चुनाव को लेकर ना सिर्फ राहुल बल्कि पूरी कांग्रेस मोदी सरकार को घेरने में लगी है और तमाम आरोप भी लगाए जा रहे हैं। हाल ही में कांग्रेस के बड़े नेताओं ने भी कहा था कि मोदी सरकार ने बड़े बिजनेसमैन के लोन माफ कर उन्हें बट्टे खाते में डाल दिया था ।

अनिल अंबानी

चीन की चाल हुई बेकार, नेवी चीफ बोले-भारत ने शुरू किया एक-साथ 6 परमाणु पनडुब्बी बनाने का काम

बता दें कि सरकार के साथ ही मामले में खुद बिजनेसमैन बचाव करने में जुटे हैं। अनिल अंबानी में अभिषेक मनु सिंघवी पर 5 हजार करोड़ के मानहानि का दावा ठोंकने को कहा है। अब राहुल गांधी के आरोपों पर टाटा मोटर्स ने अपने बचाव में कहा है कि गुजरात सरकार द्वारा उन्हें कोई अनुचित लाभ नहीं मिला है।

राहुल गांधी

साथ ही यह जरूर बताया कि राज्य सरकार से उन्हें 584.8 करोड़ रुपये कर्ज के रूप में जरूर मिले थे, ना कि किसी ऑफर के तहत। बता दें कि राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि गुजरात की बीजेपी सरकार ने साणंद में कारखाना लगाने के लिए टाटा मोटर्स को 33,000 करोड़ रुपये का गलत तरीके से लाभ दिया।

टाटा मोटर्स

राजनाथ की दहाड़, बोले-पाकिस्तान रोज भेज रहा आतंकी, हमारे जवाने बीच माथे पर मार रहे गोली

कंपनी ने एक बयान में कहा है कि गुजरात सरकार द्वारा बनाए गए निवेशक अनुकूल माहौल के चलते कंपनी साणंद में विनिर्माण कारखाना लगाने को तैयार हुई। टाटा मोटर्स ने यह भी कहा है कि उसे राज्य सरकर से 584.8 करोड़ रुपये का जो लोन मिला था, उसका भुगतान अभी किया जा रहा है। इसके अलावा कंपनी ने यह भी कहा है कि साणंद में कारखाना लगाए जाने के बाद से राज्य में रोजगार में भी बढ़ोतरी हुई है। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।