दिल्ली-मुंबई के बीच सफर करने वालों को रेलवे का गिफ्ट, बचेंगे ₹800 और 2 घंटे का समय

दिल्ली-मुंबई के बीच सफर करने वालों को रेलवे का गिफ्ट, बचेंगे ₹800 और 2 घंटे का समय

By: Rohit Solanki
October 13, 20:10
0
....

New Delhi: अगर आप अक्सर दिल्ली से मुंबई के बीच सफर करते हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। रेलवे दिल्ली और मुंबई के बीच दीवाली से पहले नई राजधानी एक्सप्रेस शुरू करने जा रहा है। इस राजधानी के जरिए न सिर्फ यात्रियों के 2 घंटे का समय बचेगा बल्कि दूसरी राजधानी ट्रेनों के मुकाबले इसका किराया ₹ 600 से लेकर ₹ 800 तक कम होगा।

नई राजधानी 16 अक्टूबर से शुरू होने जा रही है। यह ट्रेन हजरत निजामुद्दीन से मुंबई के बांद्रा टर्मिनस तक चलेगी। वैसे, इस रूट पर पहले से ही 2 राजधानी ट्रेन चल रही हैं। रेलवे बोर्ड में ट्रैफिक मेंबर मोहम्मद जमशेद के मुताबिक- स्पेशल राजधानी शुरुआत में तीन महीने (16 अक्टूबर से 16 जनवरी) तक चलाई जा रही है। यह हफ्ते में 3 दिन चलेगी और इसका दूसरी राजधानी ट्रेनों के मुकाबले ट्रैवल टाइम 2 घंटे कम होगा। 

फिलहाल, इस रूट पर अगस्त क्रांति राजधानी और मुंबई सेंट्रल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस चल रही हैं। अगस्त क्रांति 17 जबकि मुंबई सेंट्रल-नई दिल्ली राजधानी 16 घंटे में यह सफर पूरा करती हैं। दोनों में से कोई भी ट्रेन बांद्रा में नहीं रुकती। यह नई राजधानी इस सफर को 14 घंटे में पूरा करेगी और इसके तीन स्टॉप होंगे। कोटा, वडोदरा और सूरत। जमशेद के मुताबिक- यात्रियों के लिए नई राजधानी इसलिए भी खास होगी क्योंकि यह सुबह 6 बजे ही दिल्ली और मुंबई पहुंचेगी। इस टाइमिंग की वजह से दो फायदे होंगे। एक तो लोगों के करीब पूरा दिन कामकाज के लिए मिल सकेगा और दूसरा, सुबह पहुंचने की वजह से ट्रैफिक भी कम रहेगा।

 रेल अधिकारी के मुताबिक, दिल्ली से यह ट्रेन बुधवार, शुक्रवार और शनिवार को चलेगी, जबकि, मुंबई से मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को। ट्रेन में फ्लैक्सी फेयर सिस्टम लागू नहीं और इसके टिकट पर 600 से 835 रुपए की रियासत दी जाएगी।  मुंबई-दिल्ली के बीच फ्लैक्सी फेयर सिस्टम के तहत राजधानी के सेकंड एसी का किराया अभी 4,105 रुपए है, जबकि नई राजधानी में यह 3270 रुपए होगा। 

इसी तरह, थर्ड एसी का किराया 2925 की जगह 2325 रुपए होगा। इसमें कैटरिंग सर्विस ऑप्शनल होगी। अगर कोई पैसेंजर खाना नहीं लेना चाहता तो टिकट और भी कम किया जा सकता है। नई राजधानी में 1 फर्स्ट एसी, 2 सेकंड एसी और 12 थर्ड एसी होंगे। इनके अलावा एक पेंट्री और दो पावर कार होंगी। रफ्तार बढ़ाने के लिए इसमें दो इलेक्ट्रिक इंजन लगाए जा रहे हैं और ये 130 KMPH घंटे की अधिकतम रफ्तार से दौड़ेगी। आपको बता दें कि मुंबई-दिल्ली रूट रेलवे के लिए खास है, क्योंकि इस रूट पर ज्यादातर कारोबारी सफर करते हैं। वक्त ज्यादा लगने की वजह से ज्यादातर कारोबारी हवाई सफर को तवज्जो देते हैं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।