बॉलीवुड एक्टर किरण कुमार ने कोरोना को हरा दिया, अपनों का प्यार और हल्दी रहे बेहद कारगर

New Delhi : बॉलीवुड एक्टर और फिल्मों में खतरनाक विलेन के किरदार निभानेवाले किरण कुमार ने कोरोना को  मात दे दी है। उनका 14 मई को कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था। अब उनका तीसरा टेस्ट नेगेटिव आया है। उन्होंने अपने बंगले के एक कमरे में खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया था। अब वह बेहतर महसूस कर रहे हैं। एक आधिकारिक बयान में 74 वर्षीय अभिनेता ने बताया- यह कहना ठीक रहेगा कि अब चीजें सामान्य है। मैंने मेरे सबसे बुरे सपने में भी कभी ऐसा हो सकता है की कल्पना नहीं की थी।

उन्होंने कहा – कुछ हफ्ते पहले मुझे एक नियमित चिकित्सा प्रक्रिया से गुजरना पड़ा। इस समय सरकार के दिशानिर्देश के तहत कोरोना का टेस्ट अनिवार्य था। मेरी बेटी टेस्ट के दौरान मेरे साथ गई थी और हम हंसी-मजाक कर रहे थे। आम लोगों की तरह उत्साहित थें। हमें लगा यह सिर्फ एक औपचारिकता है और हम जल्द ही अपने सामान्य जीवन में आगे बढ़ेंगे। टेस्ट के परिणाम पॉजिटिव आये। घंटे के भीतर हमने घर में एक कमरे में खुद को बंद कर लिया। इसे एक सेल्फ-आइसोलेशन जोन में बदल दिया। हिंदुजा और लीलावती के अद्भुत डॉक्टरों ने यह सुनिश्चित किया कि हम पैनिक न करें। हमने अपनी स्थिति के बारे में बीएमसी को सूचित किया और हमने सभी प्रकार के विटामिन का सेवन करना शुरू कर दिया।
उन्होंने कहा- आज कोरोना के टेस्ट का रिजल्ट नेगेटिव आया है। मुझे यह कहने में खुशी हो रही है कि मेरा टेस्ट नेगेटिव आया है। मेरा परिवार अभी भी घर पर सेल्फ-आइसोलेशन का पालन कर रहा है। अलगाव के दौरान मुझे बोरियत के अलावा कोई अन्य शिकायत नहीं थी। मैंने जीवन के छोटे-छोटे सुखों पर ध्यान केंद्रित करना शुरू कर दिया था। दिन भर ध्यान, योग करने के अलावा ओटीटी कंटेंट देखता था और पुस्तकों को पढ़ता था। अगर कोई मुझसे पूछता है कि इस दौरान मैंने क्या सीखा तो वह यही है कि डरने की जरूरत नहीं है। कोरोना से बचने के लिए हमने हर सावधानी बरती और फिर भी यह हो गया। जबकि हमने सोचा था कि यह पूरी तरह से सैनिटाइज वाली जगह है। फिर भी यह आ गया। हम इसके साथ जीना सीख रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा – यह इतना अजीब समय है कि एक मौसमी कफ या खांसी कुछ ज्यादा ही भयावह लगती है। जितना मुश्किल लोगों को सेल्फ-आइसोलेट करना है, उतना ही मुश्किल उनकी देखभाल करना है। इन चुनौतीपूर्ण समयों में मैं हमारे सभी सहायक कर्मचारियों को धन्यवाद देता हूं। मैं उन सभी मित्रों और परिवार को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने मेरे लिए कामना की है फिर चाहे वह फेसटाइम कॉल हो या घरेलू उपचार हो जो प्यार और हल्दी में डूबा हुआ था। हमारे निजी मेडिको सुपरमैन की तरह हमारे साथ खड़े रहने के लिए मेरे साले डॉ. दीपक उग्रा को एक विशेष धन्यवाद। डॉक्टर और चिकित्सा कर्मी असली सुपरहीरो हैं और उनकी सेवा के लिए कोई भी प्रशंसा कम हैं। लव, किरण।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirty six − = thirty one