BJP ऑफिस पहुँच सिंधिया ने भारत माता की जय, वादे मातरम के नारे लगाये भी, लगवाये भी

New Delhi : BJP में शामिल होने के बाद Jyotiraditya Scindia पहली बार भोपाल पहुंचे। यहां पहुंचकर सिंधिया ने शहर में रोड शोकिया। शाम 5 बजे एयरपोर्ट से शुरू हुआ 20 किलोमीटर लंबा रोड शो 6.30 बजे BJP कार्यालय पहुंचा। यहां उन्होंने दीनदयालउपाध्याय, कुशाभाऊ ठाकरे, राजमाता सिंधिया और माधवराव सिंधिया की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया। उन्होंने BJP ऑफिस में वादेमातरम और भारत माता की जय के नारे लगाये और कार्यकर्ताओं से भी लगवाये।

यहां सिंधिया ने कहाआज मेरे लिए बहुत भावुक पल है। मैं अपने आप को सौभाग्यशाली समझता हूं कि नड्डा साहब, प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदीजी, गृहमंत्री अमित शाह के आशीर्वाद से इस परिवार के द्वार मेरे लिए खोले गए। जिस संगठन में, जिस परिवार में मैंने 20 सालबिताए, मेहनतलगनसंकल्प और खूनपसीने की बूंद बहाई, उसे छोड़कर मैं खुद को आपको समर्पित कर रहा हूं।

BJP कार्यालय में सिंधिया बोलेदो तरीके के लोग हैं इस देश में। कइयों का मकसद राजनीति होता है और कइयों का मकसद जनसेवाहोता है। मैं गर्व से कह सकता हूं कि अटलजी रहे हों या नरेंद्र मोदीजी हों, चाहे सिंधिया परिवार की सदस्य मेरी दादी राजमाताविजयाराजे सिंधिया रही हों, मेरे पूज्य पिताजी हों या मैं फिर मैंहमारा लक्ष्य जनसेवा है और राजनीति उसका माध्यम है।

BJP कार्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री Shivraj Singh Chauhan ने सिंधिया का स्वागत किया। इसके बाद वे ग्वालियरचंबल संभाग से आएअपने समर्थकों से मुलाकात करेंगे। रोड शो के दौरान जिला कांग्रेस कार्यालय के दफ्तर के पास कांग्रेसियों ने उनके खिलाफ नारेबाजीकी।

इससे पहले कांग्रेस नेता Rahul Gandhi ने आज Jyotiraditya Scindia पर तंज कसते हुए कहा कि वे विचारधारा को अपनी जेब मेंरखकर BJP में गये हैं। मैं उनकी विचारधारा को जानता हूँ लेकिन उन्हें राजनैतिक भविष्य की चिंता थी। एक तरफ कांग्रेस की विचारधाराहै और दूसरी तरफ आरएसएसभाजपा की विचारधारा है। उनके दिल में कुछ और मुँह में कुछ और है।

BJP में शामिल होने के बाद Jyotiraditya Scindia पहली बार भोपाल पहुंचे। एयरपोर्ट पर बड़ी तादाद में BJP कार्यकर्ता और समर्थकसिंधिया के स्वागत के लिए पहुंचे। समर्थक अपने साथ ज्योतिरादित्य और उनके पिता माधवराव सिंधिया पोस्टर भी लाए।

सीएम हाउस के पास पॉलिटेक्निक चौराहे पर सिंधिया के स्वागत में लगे पोस्टरों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने काला रंग डाल दिया औरउन्हें फाड़ भी दिया। बताया जा रहा है कि सिंधिया का यह पोस्टर सीएम कमलनाथ के पोस्टर के ऊपर लगाया गया था। दूसरी ओरमध्यप्रदेश के कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, भगवान से प्रार्थना करता हूं कि सिंधिया को भाजपा में सुरक्षित रखें।

राज्यपाल टंडन लखनऊ से वापस लौटने के बाद मध्य प्रदेश का राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदलने की उम्मीद है। सबसे पहले तो उनछह मंत्रियों पर फैसला होगा, जिन्हें हटाने की सिफारिश मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दो दिन पहले की थी। 16 फरवरी से विधानसभा काबजट सत्र शुरू हो रहा है, जो गहमागहमी वाला होगा।

कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला गुरुवार को जयपुर से इंदौर पहुंचे। कहावे निजी कारणों से वापस आए हैं। उनके पिता और बड़े भाईभाजपा में ही हैं और इंदौर के बड़े नेता माने जाते हैं। उनके भाजपा में शामिल होने की सूचना आई थी, जिसका विधायक ने खंडन कियाथा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ sixty six = seventy