आज माइक्रोसाफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स ने चिट्ठी लिखकर पीएम मोदी से कहा कि उनका लॉकडाउन का फैसला एकदम सही था और कोरोना आपदा के समय उनका कार्य बेहद सराहनीय है।

बिल गेट्स भी बोले – वाह मोदी जी, कोरोना से भारत को बचाने के लिए आपका प्रयास शानदार

New Delhi : दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक और माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के संस्थापक Bill Gates ने Prime Minister को पत्र लिखकर कोरोना महामारी के खिलाफ भारत के प्रयासों के लिए उनकी तारीफ की है। उन्होंने अपने पत्र में पीएम मोदी के नेतृत्व और कोरोना महामारी को लेकर केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की सराहना की है। उन्होंने लिखा है – मैं कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए आपके नेतृत्व के साथ-साथ आपकी और आपकी सरकार के सक्रिय कदमों की सराहना करता हूं। देश में हॉटस्पॉट चिह्नित करने और लोगों को आइसोलेशन में रखने के लिए लॉकडाउन, क्वारैंटाइन के साथ-साथ इस महामारी से लड़ने के लिए जरूरी हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाना सराहनीय है। आपने रिसर्च और डेवलेपमेंट के साथ-साथ डिजिटल इनोवेशन पर भी काफी जोर दिया है।

बिल गेट्स ने आरोग्य सेतु ऐप की तारीफ करते हुए अपनी चिट्ठी में कहा – मुझे खुशी है कि आपकी सरकार इस महामारी से लड़ाई में अपनी डिजिटल क्षमता का पूरा इस्तेमाल कर रही है। आपकी सरकार ने आरोग्य सेतु ऐप लॉन्च किया है, जो कि कोरोना वायरस ट्रैकिंग, संपर्क का पता लगाने के साथ-साथ और लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं से जोड़ने का काम करती है।
वैश्विक कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में सभी देश अपने-अपने स्तर से लड़ाई लड़ रहे हैं। भारत भी कोरोना आपदा के खिलाफ जंग में मजबूती से डटा है और यही वजह है कि डब्लूएचओ से लेकर कई अंतरराष्ट्रीय संगठन तक देश की प्रशंसा कर चुके हैं। कोरोना वायरस से निपटने के प्रयासों में नरेंद्र मोदी दुनियाभर में सबसे आगे हैं, ऐसा अमेरिकी डेटा रिसर्चर कंपनी का दावा है। PM Narendra Modi ने अमेरिकी प्रेसीडेंट Donald Trump समेत दुनिया के सबसे प्रभावशाली राष्ट्र प्रमुखों को पछाड़कर विश्व के सबसे प्रभावशाली राष्ट्र प्रमुख का खिताब हासिल किया है। एक अमेरिकी डाटा रिसर्चर कंपनी Morning Consult Political Intelligence ने COVID-19 के अमेरिका पर पड़े प्रभाव के बारे में रिसर्च की है।

इसपर मॉर्निंग कंसल्ट ने 1 जनवरी 2020 से लेकर 14 अप्रैल 2020 के बीच में अमेरिका और अमेरिका से बाहर का डाटा इकट्ठा किया है। इस रिसर्च में जो डाटा सामने आया है, उस आधार पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले स्थान पर हैं। इस रेटिंग में भारत के PM Narendra Modi की अप्रूवल रेटिंग को दुनिया के बाकी सभी नेताओं से ऊपर रखा गया है। इस रेटिंग में नरेंद्र मोदी 68 अप्रूवल प्वॉइंट्स के साथ पहले स्थान पर हैं। जबकि अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को माइनस 3 अप्रूवल रेटिंग प्वॉइंट्स मिले हैं। 10 नेताओं की इस लिस्ट में ट्रंप आठवें नंबर पर हैं। हर रोज औसतन 447 लोगों के इंटरव्यू लिये गये। 1 जनवरी 2020 को नरेंद्र मोदी का अप्रूवल रेटिंग प्वाइंट 62 था। जबकि 14 अप्रैल आते आते ये 68 हो गया। इसी पैमाने पर 1 जनवरी को ट्रंप की रेटिंग माइनस 10 थी और 14 अप्रैल तक वो माइनस तीन पर पहुंची। लिस्ट में पीएम मोदी पहले नंबर पर हैं। दूसरे नंबर पर मैक्सिको के राष्ट्रपति हैं और तीसरे नंबर पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन हैं। इस रिसर्च में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के साथ दुनिया के दस बड़े देशों के राष्ट्राध्यक्षों की तुलना की गई है और ये पता लगाने की कोशिश की गई है कि किस देश के राष्ट्राध्यक्ष ने किस तरह से अपने देश में वायरस से निपटा है।

पीएम मोदी की रेटिंग में सुधार की वजह कोरोना वायरस से निपटने को लेकर उनकी तैयारी और तत्काल फैसले लेने की क्षमता है। कोरोना के खतरे को देखते हुए भारत ने अन्य देशों से पहले देश के एयरपोर्टों पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था शुरू की। रिसर्च में 10 देशों के राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री के नाम हैं. इसमें भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मैक्सिको के राष्ट्रपति एंद्रेस मैनुएल लोपेज ओब्राडोर, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो, जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल, ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो, अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventy nine − = 74