प्रद्युम्न केस के बाद भी स्कूल नहीं ले रहे सबक,8 साल की बच्ची से स्वीपर ने की रेप की कोशिश

प्रद्युम्न केस के बाद भी स्कूल नहीं ले रहे सबक,8 साल की बच्ची से स्वीपर ने की रेप की कोशिश

By: Shalu Sneha
December 07, 11:12
0
New Delhi: PATNA के होली क्रॉस इंटरनेशनल स्कूल में एक दुसरी क्लास की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। ये शर्मनाक हरकत उस स्कूल के स्वीपर रामजी प्रसाद ने की है। मामले की सुचना पुलिस को दि गई है।

सुचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। जहीं पीड़ित बच्ची ने पुलिस को अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को उसी समय गिरफ्तार कर लिया।

 होली क्रॉस इंटरनेशनल स्कूल में एक दुसरी क्लास की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला

टीचर ने पूछा सवाल,बैठकर लड़की ने दिया जवाब,फिर मिली ऐसी सजा,की घर आते कर लिया सुसाइड 

6 घंटे तक सड़क पर परिजन ने किया हंगामा
बच्ची के साथ हुई इस वारदात की जानकारी उसके परिजनों को दी गई। जानकारी मिलने के बाद परिजन और इलाके के लोग स्कूल के बाहर पहुंच कर हंगामा करने लगे। स्थानीय विधायक आशा सिन्हा भी सड़क पर उतर गईं। परिजन और लोगों ने स्कुल बंद करने की मांग की। जिसके लिए लोग लगातार 6 घंटे तक सड़क पर ही खड़े रहें। मामले को बढ़ता पुलिस को आगे आना पड़ा। जब पुलिस ने लोगों को मामले की सख्ती से जांच करने का आश्वासन दिया तब लोगों ने बवाल बंद किया।

परिजन और लोगों ने स्कुल बंद करने की मांग की

क्लास में 4 साल के लड़के ने पहले खोली पैंट,फिर लड़की के साथ किया कुछ ऐसा कि सबके उड़ गए होश

बाथरुम में पहले से ही मौजुद था स्वीपर
बता दें कि घटना दोपहर 2 बजे की है। दुसरी क्लास की बच्ची बाथरुम गई थी लो वहां स्वीपर पहले से ही मौजुद था। जब बच्ची अंदर गई तो स्वीपर ने दरवाजा बंद करके बच्ची के साथ गंदी हरकत की,और किसी को नहीं बताने की धमकी दी। जब बच्ची क्लास में वापस गई तो उसने अपनी दोस्त को ये बताया। दुसरी क्लास की बच्ची ने ये सब अपनी टीचर को बताया। जब प्रिंसिपल को इस बारे में पता चला तो उन्होंने फोन पर पीडि़त बच्ची के अभिभावकों और थाना पुलिस को घटना के बारे में बताया। देर शाम तक बच्ची को अकेले कमरे में अभिभावकों के साथ रखा गया। महिला पुलिस उसका बयान लेने पहुंची। पीडि़त बच्ची की मेडिकल जांच कराई जाएगी। अभिभावकों का आरोप है कि आनन-फानन में स्कूल के निदेशक बीके ठाकुर बाहर निकले और उन पर पिस्तौल तान दी। बाद में मामला गरम होता देखकर वे कमरे में छिप गए। हालांकि स्कूल प्रशासन ने उनके आरोप को गलत बताया है।
 
जिस उम्र में याद करना था भगवान को, उस उम्र में ऐसा किया काम कि हैवानियत भी शर्मा जाए

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।