जेल में अपनी रिहाई का फैसला सुनकर भावुक हुए तलवार दंपत्ति, HC ने दिया तुरंत रिहाई का आदेश

जेल में अपनी रिहाई का फैसला सुनकर भावुक हुए तलवार दंपत्ति, HC ने दिया तुरंत रिहाई का आदेश

By: Rohit Solanki
October 12, 15:10
0
....

New Delhi: नवंबर 2013 से जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे तलवार दंपती की आंखे आज उस वक्त नम हो गई, जब इलाहबाद हाईकोर्ट ने उन्हें बरी करने का आदेश जारी किया। फैसला सुनने के बाद गाजियाबाद की डासना जेल में बंद तलवार दंपती भावुक हो गए।

इससे पहले आज सुबह से तलवार दंपती फैसले को लेकर परेशान थे। जेल अधिकारियों के मुताबिक, दोनों को रातभर नींद नहीं आई और सुबह दोनों ने नाश्ता भी नहीं किया। आज सुबह जब उनका ब्लड प्रेशर चेक किया गया तो वो भी बढ़ा हुआ था। सूत्रों के मुताबिक, आम दिनों में नुपूर तलवार दूसरी महिला कैदियों से बातचीत करती थीं, लेकिन आज वो सुबह से ही गुमसुम बैठी हुई थी।

 आपको बता दें कि गाजियाबाद स्थित स्पेशल CBI कोर्ट ने 26 नवंबर, 2013 को राजेश और नुपुर को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इससे एक दिन पहले इनको दोषी ठहराया गया था। अपनी बेटी आरुषि की हत्या के आरोपी तलवार दंपती ने उम्रकैद की सजा के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील की थी। गौरतलब है कि करीब 9 साल पहले नोएडा के सेक्टर-25 स्थित जलवायु विहार में हुए आरुषि हेमराज हत्याकांड की पुलिस के बाद CBI की 2 टीमों ने जांच की थी। 16 मई, 2008 को आरुषि को उसके बेडरूम में मृत पाया गया था। उसकी गला रेतकर हत्या की गई थी। शुरुआत में घरेलू नौकर 45 वर्षीय हेमराज पर ही आरुषि के मर्डर का शक था, लेकिन अगले ही दिन जलवायु विहार के उसी मकान की छत पर हेमराज का भी शव मिला।

CBI कोर्ट की सजा के खिलाफ तलवार दंपती ने हाईकोर्ट में पिटीशन फाइल की थी। इस पर जस्टिस बीके नारायण और जस्टिस एके मिश्रा की खंडपीठ ने तलवार दंपति की अपील पर 7 सितंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था और फैसला सुनाने की तारीख 12 अक्टूबर को तय की थी। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।