बांग्‍लादेश के डॉक्‍टरों ने खोजा कोरोना का इलाज : 60 मरीज पर किया टेस्‍ट, सारे ठीक हो गये

New Delhi : बांग्लादेश के विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक मेडिकल टीम ने कोरोना वायरस का इलाज ढूंढ लेने का दावा किया है। डाक्टरों की इस टीम ने दावा किया है कि उन्होंने एंटीबॉयोटिक दवाइयों का एक कॉम्बिनेशन खोज निकाला है, जिससे कोरोना का शत प्रतिशत इलाज मुमकिन हो रहा है। बांग्लादेश में इस दवाई के कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल 60 अलग-अलग कोरोना संक्रमित मरीजों पर किया गया और सभी कोरोना के मरीज पूरी तरह से ठीक हो गये।
बांग्लादेश में एक वरिष्ठ डॉक्टर के नेतृत्व में काम करने वाली एक मेडिकल टीम ने दावा किया है कि उन्होंने काफी बड़े स्तर पर इस्तेमाल की जाने वाली दो दवाओं के जरिये कोरोना वायरस के मरीजों को ठीक किया है। बांग्लादेशी मेडिकल टीम का ये दावा ऐसे समय पर आया है, जब दुनियाभर में इसके वैक्सीन और इलाज को लेकर रिसर्च हो रही है। पर सफलता किसी को नहीं मिली है।

बांग्लादेश मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के मेडिसिन डिपार्टमेंट के प्रमुख डॉक्टर मोहम्मद तारेक आलम ने कहा- हमने अद्भुत नतीजे पाये हैं। कोरोना वायरस के 60 मरीजों में से सभी स्वस्थ्य हो चुके हैं, वो भी सिर्फ दो दवाओं के कॉम्बिनेशन दिये जाने मात्र से।

बांग्लादेश के प्रतिष्ठित चिकित्सक, आलम ने कहा – एंटीप्रोटोजोअल के तौर पर इस्तेमाल की जाने वाली इवरमेक्टिन का एक डोज और इसी के साथ डॉक्सीसाइक्लिन नाम की एक एंटीबॉयोटिक की खुराक कोरोना के मरीजों को दिये जाने के बाद चमत्कारी परिणाम सामने आये हैं। मेरी टीम केवल कोरोना वायरस रोगियों के लिए दो दवाओं को निर्धारित कर रही थी, उनमें से ज्यादातर मरीज शुरू में संबंधित शिकायतों के साथ सांस लेने की समस्या से ग्रसित थे, बाद में उनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव पाया गया।
बांग्लादेश में अब तक कोरोनावायरस के 20,995 मामले सामने आये हैं और 314 लोग इस महामारी के शिकार हो गये। डॉक्टर ने कहा – जब से इन दवाइयों का इस्तेमाल शुरू किया है कोरोना के मरीज 4 दिनों के भीतर ठीक हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। हम पहले मरीजों से कोरोना वायरस का टेस्ट कराने के लिए कहते हैं, अगर वह पॉजिटिव निकलते हैं तो हम उन्हें दवाई देते हैं और वह चार दिनों के भीतर ठीक हो जाते हैं। हम दवाओं के कॉम्बिनेशन की प्रभावशीलता के बारे में सौ प्रतिशत आशान्वित हैं।
उन्होंने कहा – अब वे संबंधित सरकारी नियामकों से संपर्क करके COVID-19 उपचार के लिए दवाओं की मंजूरी के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रक्रियाओं को खत्म करने की तैयारी कर रहे हैं। आलम ने कहा कि उनकी टीम एक अंतरराष्ट्रीय जर्नल के लिए दवा के विकास पर एक पेपर तैयार कर रही थी, जैसा कि वैज्ञानिक समीक्षा और एकसेप्टेन्स के लिये आवश्यक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ forty two = forty four