पब्लिक पड़ी पीछे तो अयोध्या के विधायक गोरखनाथ बाबा ने गन्ने के खेत से भागकर बचाई जान

New Delhi : उत्तर प्रदेश के अयोध्या में भाजपा से जुड़े ग्राम प्रधान के बाद अंतिम संस्कार में शामिल होने पहुंचे भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथ को जनता गांव से खदेड़ डाला। लोगों ने उन्हें खदेड़ा तो विधायक को गन्ने के खेत से होते हुए अपनी जान बचाकर भागना पड़ा। मौके पर मौजूद पुलिस ने उन्हें भीड़ से बचकर भागने औैर जान बचाने में मदद की। इसके बाद विधायक गाड़ी में सवार होकर निकल गये।
अयोध्या जिले में सोमवार को इनायतनगर थाना इलाके के पलिया प्रताप शाह गांव में भाजपा से जुड़े ग्राम प्रधान जयप्रकाश सिंह व उनके पंचायत चुनाव में उम्मीदवार रहे राम पदारथ यादव के बीच गांव की एक पंचायत में वाद विवाद शुरू हो गया। इसमें प्रधान जयप्रकाश सिंह और राम पदारथ यादव को एक दूसरे के विपक्षी गुटों ने जान ले ली। राम पदारथ यादव की घटना स्थल पर ही जान चली गई। घायल प्रधान जयप्रकाश सिंह को जिला अस्पताल लाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।
भाजपा नेता जय प्रकाश सिंह का शव जब पोस्टमार्टम के बाद गांव पहुंचा तो सांसद लल्लू सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने श्रद्धांजलि दी।
इसके बाद क्षेत्रीय विधायक गोरखनाथ बाबा भी अपने समर्थकों के साथ शोक संवेदना प्रकट करने के लिए पहुंचे। उन्हें देखते ही ग्रामीण भड़क गये। उन्हें तत्काल मौके से भाग जाने की हिदायत दी गई। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि, तीन वर्षों से हैरिंग्टनगंज चौकी प्रभारी राजेश यादव विद्यमान था। इसकी शिकायत पुलिस विभाग से की गई थी। लेकिन, विधायक ने हर बार उसका स्थानांतरण रुकवाया। इसके चलते ये वारदात हुई। इसके बाद ग्रामीणों ने विधायक को दौड़ा लिया। हालात बेकाबू होते देख विधायक गन्ने के खेतों से भागे। उनके पीछे भीड़ दौड़ पड़ी। पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने विधायक गोरखनाथ बाबा को कड़ी सुरक्षा के उनके वाहन में बैठाकर हटा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

51 − forty six =