जमातियों को खोजने पहुंचे जवानों पर हमला, भीड़ ने चौकी फूंकने की कोशिश की, एएसपी घायल

New Delhi : निजामुददीन मरकज के तबलीगी जमात में शामिल होनेवाले लोगों का उत्पात रुक ही नहीं रहा हे। ग्वालियर में क्वारैंटीन में तबलीगी जमातियों ने डाक्टर पर थूक दिया तो दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के बरेली में जमातियों की तलाश में जब पुलिस पहुंची तो इलाके के लोगों ने पत्थर बरसा दिये। एएसपी घायल हो गये।

निजामुद्दीन मरकज से बाहर आते जमाती और इनसेट में इनका नेता मौलाना साद


उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में सोमवार की दोपहर इज्जतनगर थाना क्षेत्र के करमपुर में दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुई जमात से लौटे लोगों की तलाश में पहुंचे दो सिपाही से लोगों ने बदसलूकी की। इसके बाद सिपाहियों ने दो लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस बैरियर वन चौकी पहुंचाया। पुलिस लोगों को घरों में रहने के लिए समझा रही थी। तभी चौकी पर करीब 400 की भीड़ ने हमला कर दिया और आग लगाने की कोशिश की। पुलिस को लाठीचार्ज कर स्थिति पर काबू पाना पड़ा। इस दौरान आईपीएस अभिषेक वर्मा को चोटें आई हैं। एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने कहा- आरोपियों पर रासुका लगेगी।
गांव करमपुर चौधरी में जमात से जुड़े लोगों के होने की सूचना पर दोपहर दो सिपाही पहुंचे थे। सिपाही लोगों से जानकारी कर रहे थे, लेकिन लोगों ने असहयोग किया और बदसलूकी की। इसके बाद दोनों सिपाही वहां से दो लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस बैरियर वन चौकी ले आए। लेकिन थोड़ी देर बाद गांव के प्रधान तसब्बुर खान की अगुवाई में 300 से 400 लोग पुलिस चौकी पर पहुंचे और आगजनी करने की कोशिश की।
इसकी सूचना पर जब सीओ अभिषेक वर्मा मौके पर पहुंचे तो उनसे भी लोग भिड़ गये और हाथापाई की। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। लाठी चलाने के दौरान आईपीएस अभिषेक वर्मा का पैर फिसल गया और वे गिरकर घायल हो गए। पुलिस ने मौके से 18 लोगों को पकड़ा है। गांव और पुलिस चौकी पर पुलिस बल तैनात किया गया है।
इससे पहले रविवार को आगरा में पिनाहट थाना क्षेत्र के भदरौली कस्बे में रविवार की दोपहर भीड़ ने दो सिपाहियों पर हमला कर दिया। लॉकडाउन का उलंघन कर रहे लोगों को ये सिपाही सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में समझा रहे थे। सिपाही जसपाल व योगेंद्र को भाग कर अपनी जान बचानी पड़ी। इधर मध्य प्रदेश में दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शिरकत के बाद लौटे जमातियों के संपर्क में आने वाले कई लोग संक्रमित हो चुके हैं। भोपाल में 20 जमाती पॉजिटिव पाये जा चुके हैं। यहां टोटल लॉकडाउन है। ग्वालियर में क्वारैंटाइन किये गये जमातियों द्वारा डॉक्टरों से बदसलूकी और उन पर थूकने की शिकायतें मिली हैं।
भोपाल और इंदौर कलेक्टर ने नियमों का उल्लंघन करने वालों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं। यही नहीं तबलीगी जमात की रिपोर्टिंग करने वाले रिपोर्टरों को तबलीगी जमात के समर्थक जान से मार डालने की धमकियां दे रहे हें। इन धमकियों को देखते हुए NBA ने केंद्र सरकार से इस मामले में कार्रवाई करने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifty three + = sixty three