बार्डर से सेना के जवानों ने सोनू सूद को सैल्यूट किया, सोनू बोले- आपके सामने मैं कुछ नहीं, जय हिंद!

New Delhi : बॉलीवुड एक्टर और गरीबों के मसीहा की पूरे देश में जय-जय हो रही है। हालात ऐसे हैं कि लोग उनकी तारीफ करते-करते और उनको सुपरमैन बताते थक रहे हैं लेकिन सोनू गरीबों, जरूरतमंदों, प्रवासी मजदूरों की मदद करते नहीं थक रहे। बहरहाल उनके इन्ही हौसलों को सलाम करते हुये बार्डर पर तैनात जवानों ने सोनू सूद को सलाम भेजा है। जवानों ने अपनी सेल्फी के साथ ट्वीट किया- great work sir, हम फौजियों की तरफ से सैल्यूट तो बनता है आपके लिये। इसके जवाब में सोनू सूद ने ट्वीट किया- Salute आप सभी फ़ौजी भाइयों को। आप हमारे देश का गर्व हैं। मेरा योगदान आप सब के योगदान के सामने कुछ भी नही। जय हिंद।

 

इधर बॉलीवुड के कमाल राशिद खान उर्फ केआरके ने सोनू सूद के इस काम की समीक्षा की है। उन्होंने कहा- सोनू सूद ने अपनी परवाह किये बिना सड़क पर उतर कर गरीबों की मदद की। जरूरतमंदों की मदद की। वे गरीबों के सुपरस्टार ही नहीं बने बल्कि सुपरमैन भी बन गये।
इधर सोनू सूद ने उत्तराखंड के 173 प्रवासी लोगों को स्पेशल फ्लाइट से देहरादून भेजा है। इसके बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोनू सूद को धन्यवाद देते हुये ट्वीट किया- सोनू सूद जी का हार्दिक आभार व्यक्त करता हूँ कि उन्होंने अपने स्वयं के प्रयासों से मुंबई और आसपास के इलाक़ों में उत्तराखंड के शेष बचे प्रवासियों-जो किसी कारणवश पहले वापस नहीं आ पाये थे, को उनके घर भेजने का प्रबंध किया। आपके इस सहयोग के लिए हम आपके सदैव आभारी रहेंगे।

 

सोनू सूद ने जवाब में कहा कि वे बद्रीनाथ, केदारनाथ की यात्रा पर आयेंगे और उनसे मुलाकात भी करेंगे। सोनू सूद ने ट्वीट किया- आप से फ़ोन पर बात कर बहुत अच्छा लगा। आपने जिस सादगी और गर्मजोशी से मेरे प्रयासों की सराहना की उससे मेरे को और बल मिलता है। मैं जल्द ही बद्री-केदार दर्शनार्थ, उत्तराखंड आऊँगा और आपसे मिलूँगा। जय बाबा केदार। भगवान बद्रीविशाल की जय।
लेकिन मामला यहीं नहीं रुका। रावत ने व्यक्तिगत रूप से फोन पर सोनू सूद से बात की और उत्तराखंड आकर फिल्म बनाने का न्यौता दिया। फिल्म बनाने में हर संभव सहायता का आश्वासन दिया। रावत ने ट्वीट किया – आज सोनू सूद जी को फ़ोन पर इस वैश्विक संकट के पश्चात उत्तराखण्ड आने का न्यौता भी दिया। सोनू जी ने उत्तराखण्ड में फ़िल्म बनाने को लेकर भी काफी रुचि दिखाई और हमारी सरकार उन्हें हर सम्भव मदद देगी। मैं सोनू जी समेत सभी धार्मिक और सामाजिक संगठनों का उनके सहयोग के लिए सदैव आभारी हूँ।

 

एयर एशिया इंडिया के प्रवक्ता के अनुसार- एयरबस A320 प्लेन 173 मजदूरों को लेकर मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट से टेक ऑफ हुआ और देहरादून के जॉली ग्रांट एयरपोर्ट पर लैंड हुआ। 5 जून को दोपहर करीब दो बजे उड़कर 4.41 बजे देहरादून पहुंची।
इंडियन एक्सप्रेस से सोनू सूद ने कहा- एक और चार्टर फ्लाइट उड़ी। इससे प्रवासियों को घर भेजने का काम और मजबूत हुआ है। इनमें से ज्यादातर ने कभी हवाई सफर नहीं किया और उनके चेहरे की मुस्कान से मुझे खुशी हुई। आगे भी ऐसी फ्लाइट की व्यवस्था करेंगे। एयर एशिया के सेल्स एंड डिस्ट्रीब्यूशन हेड अनूप मांजेश्वर ने कहा कि हमारी उम्मीद की उड़ान पहल से हम प्रवासी मजदूरों को उनके परिवार से मिला रहे हैं और सोनू सूद ने इस कठिन समय में मजबूती दिखाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four + six =