नासा ने जारी की SMOG की तस्वीर, दिल्ली की स्थिति देखकर आप बाहर निकलना बंद कर देंगे

नासा ने जारी की SMOG की तस्वीर, दिल्ली की स्थिति देखकर आप बाहर निकलना बंद कर देंगे

By: Sachin
November 08, 14:11
0
New Delhi: दिल्ली-एनसीआर में पिछले दो दिनों से धुंध दिखाई दे रही है।

इस धुंध से सड़कों पर खराब दृश्यता के कारण लोगों को वाहन चलाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं कुछ लोगों को आँखों में जलन की शिकायत भी हो रही है। इन परिस्तिथियों को देखते हुए दिल्ली और अस-पास के इलाकों में 5वीं तक के स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी गई है।

अब तक इस विषय में दिल्ली-एनसीआर वासी ही चिंता कर रहे थे। वहीं मंगलवार को दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने हालातों को देखते हुए दिल्ली को गैस चैम्बर बताया था। लेकिन अब दुनिया के सबसे कुशल वैज्ञानिक संस्थान नासा ने भी चिंता जाहिर करते हुए जिम्मेदार राज्यों का नाम लिया है।

शहर में बिगड़ती हवा की गुणवत्ता के लिए कुछ लोग दीवाली की रात हुई हलकी-फुलकी आतिशबाजी और दिल्ली में बढ़ते वाहनों के प्रदुषण को जिम्मेदार ठहरा रहे थे। लेकिन नासा द्वारा जारी की गई तस्वीर कुछ और कहानी बयां कर रही है। उसके अनुसार दिल्ली में धुंध और खराब हवा के लिए पड़ोसी राज्य पंजाब और हरियाणा में जलाई जा रही पराली है।

नासा द्वारा जारी कि गई तस्वरीर में भारत और पाकिस्तान के पंजाब क्षेत्र में 'आग और थर्मल विसंगतियों' के उच्च स्तर को दर्शाया गया है। 'द हिंदू' की रिपोर्ट के मुताबिक, किसान हर साल 70-80 लाख टन पराली को जलाते हैं, जिसका हर्जाना दिल्ली-एनसीआर में रह रहे लोगों को भुगतना पड़ता है।

बता दें कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने प्रशासन से किसानों द्वारा पराली जलाने पर रोक की मांग की थी, जिसके तहत 2016 में हरियाणा सरकार ने 1406 लोगों पर 13.75 लाख रूपये का जुर्माना भी लगाया था।

गौरतलब है कि अक्टूबर के अंत में किसानों द्वारा पराली जलाने का काम शुरू हो जाता है जिससे आसमान में काले धूएं की परत दिखने लगती है। इसी कारण दिल्ली में स्मोग का स्तर बढ़ जाता है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।