जम्मू कश्मीर के शोपियां में 5 आतंकी ढेर, मुठभेड़ जारी, हिजबुल कमांडर नाली भी मारा गया

New Delhi : भारतीय सुरक्षा बलों ने रविवार 7 जून को जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में पांच आतंकवादियों को मार गिराया है। ऑपरेशन अभी जारी है। मारे गये आतंकवादियों की पहचान नहीं हुई है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में शोपियां के रेबन इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने सुबह इलाके की घेराबंदी की और तलाश अभियान चलाया। आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाईं जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ अभी चल रही है और विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है। मारे गये आतंकवादियों में पुलवामा और कुलगाम का हिज्बुल कमांडर फारुक अहमद भट उर्फ नाली भी शामिल।

 

उधर, पुलवामा जिले में रविवार को सुरक्षाबलों ने दो क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर घेराबंदी एवं तलाश अभियान (सीएएसओ) चलाया। आतंकियों की मौजूदगी के बारे में मिली खुफिया जानकारी के आधार पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर) ने पुलवामा के गासू और वसु में संयुक्त तलाशी अभियान शुरू किया।
सुरक्षा बलों ने सभी निकास मार्गों को सील कर दिया और उसके बाद घर-घर तलाशी अभियान शुरू किया। अभी तक हालांकि आतंकवादियों से सामना नहीं हुआ है। अंतिम रिपोर्ट आने तक अभियान जारी था। पुलिस ने शनिवार को एक संयुक्त अभियान में पुलवामा में दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था। तीन युवकों को आतंकवादी समूह में शामिल होने से पहले गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस ने अभी आधिकारिक तौर पर मारे गये आतंकवादियों के नामों का ऐलान नहीं किया है। लेकिन, सूत्रों ने बताया कि नाली के अलावा सक्लेन रेबन गांव का अहमद वागेर, बाबापोरा का सफैत अमीन नायक भी सुरक्षाबलों की गोलियों का निशाना बना है। इनके पास से एके-47 राइफल और पिस्टल मिली हैं। इन आतंकवादियों की बॉडी परिवारवालों को नहीं सौंपी जाएगी।
5 जून को राजौरी में सुरक्षा बलों ने एक आतंकवादी को ढेर किया था। यह आतंकवादी उस ग्रुप का हिस्सा था, जो कश्मीर से मुगल रोड के रास्ते शोपियां होते हुए कालाकोट आया था। सुरक्षाबलों के मुताबिक कश्मीर घाटी में जारी ऑपरेशन से भागकर ये आतंकी जम्मू सेक्टर में पहुंचे थे।

 

आतंकवाद जब चरम पर था तब भी आतंकी कमांडर मुगल रोड का इस्तेमाल कश्मीर घाटी से भागकर जम्मू आने के लिए करते थे। सुरक्षाबलों ने खुलासा किया है कि पिछले कुछ महीनों के दौरान जब से सुरक्षाबलों ने घाटी में टॉप कमांडर को खात्मा किया है, तब से आतंकी दक्षिण कश्मीर से अपना बेस राजौरी और पुंछ में शिफ्ट कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 49 = fifty six