सबसे बड़ा रुपैया : 55 करोड़ प्राइज मनी और ज़बरदस्त सट्टेबाज़ी वाली हॉर्स रेस देखने 2.5 लाख लोग पहुंचे

New Delhi : Corona Virus के संक्रमण से बचने के लिये जहां दुनियाभर में खेल गतिविधियां बंद कर दी गई हैं। वहीं, इंग्लैंड में Cheltenham Festival देखने के लिए 2.5 लाख से ज्यादा दर्शक पहुंचे। Cheltenham Racecourse पर चार दिन के इस इवेंट को 2 लाख 51 हजार दर्शकों ने देखा।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक़ इस फ़ेस्टिवल में घोड़ों पर दांव लगाये जाते हैं, सट्टा खेला जाता है और व्यापक पैमाने पर पैसों का लेनदेन होताहै। इसलिये पैसे का मोह कोकोनट के डर पर भारी पड़ गया। इस फेस्टिवल में 28 Horse Race हुईं। इन रेस में 500 से ज्यादा घोड़ेशामिल हुए। आखिरी दिन मुख्य रेस चेल्टेनहेम गोल्ड कप हुआ। ग्रेड-1 नेशनल हंट रेस फ्रेंच ब्रीड के आयरिश घोड़े अल बोम फोटो नेजीती। यह घोड़ा लगातार 2 बार चैंपियन बनने वाला 2004 के बाद पहला घोड़ा है। इस घोड़े के जॉकी ऑयरलैंड के Paul Tanned थे।

रेस को देखते हज़ारों दर्शक

इस टूर्नामेंट की कुल प्राइज मनी 6 मिलियन पाउंड (55 करोड़ रुपए) है। यह दूसरा सबसे ज्यादा प्राइज मनी वाला टूर्नामेंट है। इसमें हररेस के विजेता को अलगअलग प्राइज मनी मिलती है। गोल्ड कप के विजेता पॉल और उनके घोड़े को 3.2 करोड़ रुपए की प्राइज मनीजीती। गोल्ड कप में रेस ट्रैक करीब 5.33 किमी का होता है। इसमें 22 फेंसिंग को पार करना होता है। इस रेस में 5 साल से ज्यादा उम्रके घोड़े ही हिस्सा ले सकते हैं।

सेनेटाइजर की विशेष व्यवस्था

कोरोनावायरस से बचाव के लिए सेनिटाइजर की व्यवस्था की गई थी। स्पेशल गेस्ट को चार दिनों में 45 हजार कप से ज्यादा चाय सर्वकिए गए। 8 हजार गैलन से ज्यादा चायकाॅफी सर्व की गई। पूरे इवेंट के अरेंजमेंट के लिए 5,936 लोगों का स्टाफ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + one =